By- Archana Kishore आज़ादी… वही आज़ादी जो हमें 15 अगस्त 1947 को अंग्रेजों से मिली थी। अंग्रेजों से लड़ाई हमारे हक़ की लड़ाई थी। जिसकी जीत में हमें आज़ादी मिली। उस दिन हमें आज़ादी मिल तो गई पर हम अब भी गुलाम हैं। इसे हम कड़वा सच ही कह सकतेRead More →

वास्तव में अगर जम्मू कश्मीर के बारे में बातचीत करने की जरूरत है तो वह है POK और अक्साई चीन के बारे में. इसके ऊपर देश में चर्चा होनी चाहिए गिलगित जो अभी POK में है. विश्व में एकमात्र ऐसा स्थान है जो कि 5 देशों से जुड़ा हुआ है-Read More →

Chhapra: बरसात के मौसम में गढ्ढो में बरसाती पानी भर जाने और बाढ़ की स्थिति में पानी की गहराई का अंदाजा नहीं लग पाता है. कई बार इस कारण हादसे हो जाता है. अधिकतर मामलों में तैरना नहीं आने के कारण लोग डूब जाते है. वही कुछ मामलों में सहीRead More →

गंडामन हादसे की है छठी बरसी 16 जुलाई 2013 को हुआ था हादसा Chhapra: छह साल पहले सारण मे ऐसी घटना घटी, जिसने प्रदेश ही नही देश और विदेश मे सभी को झकझोर कर रख दिया. घर से माँ ने अपने बच्चों को अपनी हाथों से सजा-संवार के स्कूल केRead More →

हिंदी फिल्म और भोजपुरी फिल्म जगत में कई फिल्मों का किया है निर्देशन  (कबीर की रिपोर्ट) जब आंखों में सपने हो, मजबूत और नेक इरादे हो तो कामयाबी देर ही सही इंसान के कदम चूमती दिखाई देती है. मेहनत में ईमानदारी हो तो उस इंसान को सफल व्यक्ति बनाने सेRead More →

पांचवा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस आज मनाया जा रहा है. इस साल योग दिवस की थीम है क्लाइमेट एक्शन (Climate Action). दुनियाभर में 21 जून को योग दिवस मनाया जाता है. पीएम मोदी के सुझाव के बाद संयुक्त राष्ट्र ने 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाने काRead More →

एक समय था जब क्रिकेट या फुटबॉल विश्वकप शुरू होते ही खेल प्रेमियों में अलग सा उत्साह भर जाता था. भारत में खास कर क्रिकेट का क्रेज सिर चढ़ कर बोलता है. ऐसे में अपने पसंदीदा खिलाड़ियों के पोस्टर दीवालों पर चिपका कर, वर्ल्ड कप में कौन सा मैच कबRead More →

विश्व बाल श्रम निषेध दिवस प्रत्येक वर्ष 12 जून को मनाया जाता है. अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (आईएलओ) द्वारा बाल श्रम के उन्मूलन हेतु वैश्विक स्तर पर 12 जून 2002 से मनाने की प्रक्रिया का शुभारम्भ किया गया. इस साल का थीम है, Children shouldn’t work in fields, but on dreams!Read More →

विश्व पर्यावरण दिवस प्रत्येक वर्ष 5 जून को मनाया जाता है. यह दिवस धरती पर लगातार बेकाबू होते जा रहे प्रदुषण और ग्लोबलवार्मिंग जैसे कारणों से निपटने के लिए धरती और मानव जाति के बीच तालमेल बनाने के लिए मनाया जाता है. इस दिवस को प्रत्येक साल अलग अलग थीमRead More →

हिन्दी पत्रकारिता दिवस प्रत्येक वर्ष 30 मई को मनाया जाता है. आज ही के दिन 1826 ई. पंडित युगल किशोर शुक्ल ने कलकत्ता से प्रथम हिन्दी समाचार पत्र ‘उदन्त मार्तण्ड’ का प्रकाशन आरंभ किया था. ‘उदन्त मार्तण्ड’ का अर्थ ‘समाचार सूर्य’ है. पंडित युगल किशोर शुक्ल ने ही भारत मेंRead More →

जिसके सर से माँ का साया हट जाता है, उसका जीवन परिवर्त्तन की प्रतिछाया बन जाता है। माँ की पुण्य-तिथि पर फोटो को साफ कर, माल्यार्पण करके, धूप-अगरवत्ती दिखाते समय लगा माँ हमेशा की तरह आज भी नसीहत दे रही है मेरे फोटो को साफ करने के बजाय साफ करोRead More →

शहर भर में मजदूर जैसे दर-बदर कोई न था, जिसने सबका घर बनाया, उसका घर कोई न था… मजदूर सिर्फ वह नहीं जो घर बनाता है, मजदूर वह भी है जो किसी दूसरे संस्था में काम करते हुए पगार लेता है, बशर्ते जिसे हम मजदूर कहते हैं, वह उसे राजमिस्त्रीRead More →