सारण: रिविलगंज के पौहारी बाबा मठ से अष्टधातु की प्राचीन मूर्ति चोरी, करोड़ों में है कीमत

Chhapra/Rivilganj: सारण जिले के रिविलगंज थाना क्षेत्र के पौहारी बाबा मठ से चोरों ने करोड़ों रुपये मूल्य की अष्टधातु की प्राचीन मूर्ति की चोरी की है।

चोरों ने मठ के गर्भ गृह से हनुमान जी की डेढ़ फीट ऊंची अष्टधातु की सैकड़ो वर्ष प्राचीन मूर्ति चुरा ली है।

चोरी की इस घटना को अज्ञात चोरों द्वारा अंजाम दिया गया है। बुधवार को घटना की सूचना मिलने के बाद मठ में स्थानीय लोगो की भीड़ जमा हो गई। मठ के महंत इन्द्रमणी दास की माने तो बीती संध्या आरती कर पूजा घर में ताला लगा चाभी को बगल में रख वह सोने चले गए थे। जब सुबह में तीन बजे वह साफ सफाई के लिए आये तो उन्हें चाभी नही मिली। उन्हें शक हुआ और टार्च की रौशनी में पूजा घर के अंदर देखा तो मूर्ति गायब मिली।

महंत की माने तो वर्षों पूर्व भी मठ में दो बार चोरी की घटना हुई थी। जिसमे श्रीराम, लक्ष्मण और सीता माता की मूर्ति चोर ले गए थे। पहली चोरी में तो मूर्तिया मठ के बगीचे से ही जमीन में दबी हुई मिली थी, लेकिन उसके बाद हुई चोरी में मूर्तिया बरामद नही हो सकी।

बहरहाल चोरी की घटना के बाद मौके पर रिविलगंज थाना की टीम पहुंची और छानबीन शुरू कर चुकी है। इस घटना से आक्रोशित लोगों ने कुछ समय के लिए छपरा माँझी मुख्य मार्ग को जाम कर अपना आक्रोश जताया।

विगत कुछ वर्षों में सारण जिले के विभिन्न क्षेत्रों के मंदिरों और मठों में स्थापित प्राचीन और बहुमूल्य मूर्तियों पर चोरों की नजर रही है। कई मामलेओन में अबतक मूर्तियों की बरामदगी नहीं हो सकी है।

0Shares
A valid URL was not provided.