महेंद्र मिसिर जयंती समारोह में रामेश्वर गोप व गोपाल राय के होली और पूर्वी गीतों पर देर संध्या तक झूमते रहे लोग

महेंद्र मिसिर जयंती समारोह में रामेश्वर गोप व गोपाल राय के होली और पूर्वी गीतों पर देर संध्या तक झूमते रहे लोग

जलालपुर: पूर्वी धुन के महान सम्राट पंडित महेंद्र मिश्र की 159वीं जयंती पर बिहार सरकार के कला, संस्कृति व युवा विभाग द्वारा आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में रविवार की देर संध्या तक चर्चित लोक गायक रामेश्वर गोप व गोपाल राय के होली व पूर्वी गीतों पर हजारो लोग झूमते रहे.

लोक गायक रामेश्वर गोप ने “श्याम करे बरजोरी होली हो होली हो, मै कैसे होली खेलु प्रस्तुत किया तो लोग झूमने लगे. स्टार लोक गायक गोपाल राय ने “बारह बरिसवा के हो बारी मोर उमड़िया, बलमा मांगे ला रे गवनवा”प्रस्तुत कर सबको भाव विभोर कर दिया.

वही स्थानीय जलालपुर पतीला की बेटी राजश्री ने अपनी मधुर आवाज मे “हो मधुवन मे खेलत रंग गुजरिया” प्रस्तुत किया तो लोग झूमने व नाचने लगे.

कार्यक्रम में प्रसिद्ध लोक गायक उदय नारायण सिंह ने “केहु गोदवाई रे हो गोदनवा” पूनम श्रीवास्तव ने “पटना से बैदा बोलाई द, नजरा गइली गुंईया”. प्रियंका सिंह ने दियारा जाराई द आपन भैया के बुलाई द नशे नशे उठेला लहरिया रे हे ननदी”.

वही नन्हे बाल गायक रतन राज ने “तु अगर डिढौड़ा पीटती प्रीत न करियो कोय” प्रस्तुत कर जमकर तालियां बटोरी. मनन गिरि ने राखी रले नयनवा मे लोभाय हा रे संवरिया लाल “प्रसतुत किया.

स्थानीय कलाकार विनोद मिश्रा ने बजरंगी हो तथा नजरा गईली गुईयां प्रस्तुत किया. वही गोपालगंज के आलोक पांडेय ने “आहे आहे उधो कौनो रे जोगणिया जोगवा साधे ला रे राम” प्रस्तुत कर खूब तालियां बटोरी. वही सोशल मीडिया के स्टार हास्य कलाकार जेपी यादव ने लोगो को खूब हंसाया.

इसके पहले संध्याकालीन कार्यक्रम का उद्घाटन सदर एस डी ओ संजय कुमार राय, एडीएम संजय कुमार, बी डी ओ कुमारी अंजू, सीडीपीओ नीतू सिंह ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया. कार्यक्रम में साबिर और ग्रुप, फेस आफ फ्यूचर इंडिया व राधा सिंह ने मनमोहक नृत्य प्रस्तुत कर सबका दिल जीत लिया. इसके पहले दिवा कालीन कार्यक्रम में प्रियंका कुमारी, मिताली श्री, समृद्धि श्रेया, पंजाजन, प्रीति और कीर्ति सिस्टर्स, कुसुमावती उपाध्याय ,रामदास गिरी, अनीश अनुज, युवराज कुमार साह लखनलाल, कमलेश कुमार सिंह डोली कुमारी, रेनू राज, जीविका सिंह, राजू रंजन मिश्रा, शेखर सुमन, अतुल कुमार सिंह, अंजली सिंह, संजय कुमार सिंह अखिलेश कुमार यादव, अरुण अलबेला, चंदन कुमार सिंह, कंचन वाला, हैप्पी श्रीवास्तव सोनम मिश्रा व पुष्पा सिंह ने.

अपनी खूबसूरत आवाजों में महेंद्र मिश्रा की रचनाओं को प्रस्तुत कर दिन भर लोगों को झूमाया. मौके पर स्मारक समिति के संयोजक कन्हैया सिंह तूफानी, पंडित महेंद्र मिश्रा के पौत्र रामनाथ मिश्रा, प्रपौत्र विनय मिश्रा, जेपी सेनानी ललनदेव तिवारी, विवेकानंद तिवारी, बंशीधर तिवारी, प्रो राजेश्वर कुंवर सहित कई उपस्थित थे.

0Shares
A valid URL was not provided.