Big News: सारण में वज्रपात से 4 लोगों की मौत, 9 लोग झुलसे

Big News: सारण में वज्रपात से 4 लोगों की मौत, 9 लोग झुलसे

Saran/Parsa/Madhoura/Rivilganj: सारण में वज्रपात से मौत का कहर जारी है. शनिवार को हुए भारी बारिश और वज्रपात के दौरान जिले के अलग-अलग प्रखंडों में चार लोगों की मौत हो गई. वहीं 9 लोग झुलस गए. मढ़ौरा में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से दो लोगों की मौत हो गई. वहीं दूसरी तरफ से परसा प्रखंड के पचरुखी पंचायत के दो अलग-अलग गांवों में ठनका गिरने से एक महिला व एक पुरुष सहित दो लोगों की मौके पर मौत हो गई. इसके अलावा रिविलगंज के पचपतरा गांव में बिजली गिरने से 5 लोग घायल हो गए.

खेत में काम कर रहे लोगों की मौत

प्राप्त सूचना के अनुसार शनिवार को मढ़ौरा के नथुआ निवासी अमेरिका सिंह के बेटे करीब 35 वर्षीय चन्दन सिंह अपने घर के पास खेत मे काम कर रहे थे. इसी बीच तेज गरज के साथ आकाशीय बिजली गिरी, जिसके चपेट में वह आ गए जिस कारण घटना स्थल पर ही उनकी मौत हो गई.

उधर मढ़ौरा के नरहरपुर में भी खेत से लौट रही मुंसी राम की पत्नी करीब 50 वर्षीय महिला सोना देवी आकाशीय बिजली की चपेट में आने के कारण असमय ही मौत की नींद सो गई.

परसा में महिला और पुरुष की मौत

परसा प्रखंड में ठनका गिरने से पचरुखी के पैतालीस वर्षीय राजेन्द्र मांझी तथा जगन्नाथपुर निवासी सुहाग महतो की पत्नी भागमती देवी की मौत हो गई. इस दौरान मृतक राजेन्द्र मांझी की पत्नी चालीस वर्षीय राजकुमारी देवी तथा पुत्री रिंकू कुमारी भी झुलस गई. जिसे परिजनों ने उपचार के लिए पीएचसी परसा लाया जहां प्राथमिक उपचार के बाद रेफर किया गया. वहीं जगन्नाथपुर की मृतका भागमती देवी का पति सुहाग महतो तथा पड़ोसी अजय महतो की पत्नी सुभागा देवी भी ठनका की चपेट में आने से झुलस गए.उन्हें सदर अस्पताल ले जाया गया जहां उपचार जारी हैं.

ठनका गिरने से पचरुखी में हुई दो लोगों के मौत की सूचना स्थानीय मुखिया प्रतिनिधि पप्पू सिंह ने सीओ रामभजन राम को मोबाईल पर दी.सूचना मिलने के साथ ही सीओ तुरंत पचरुखी पहुंचे एवं स्थानीय मुखिया के साथ पहले जगन्नाथपुर फिर पचरुखी पहुंचे.वहीं मौके पर पहुंची भेल्दी पुलिस के सहयोग से दोनों के शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए छपरा भेजा.उन्होंने दोनों मृतक के परिजनों को आपदा राहत के तहत चार-चार लाख रुपये अविलम्ब देने की घोषणा की.

सीओ ने बताया कि राजेन्द्र मांझी अपनी पत्नी व बच्ची के साथ पलानी में था तभी जोरदार आवाज के साथ ठनका गिरने से राजेन्द्र मांझी की मौत हो गई. वहीं भागमती देवी अपने पति सुहाग महतो के साथ खेत घूमकर घर लौट रही थी. तभी बिजली गिर पड़ी व झुलसकर भागमती देवी ने मौके पर ही दम तोड़ दिया. घटना की सूचना पर अमनौर विधायक शत्रुध्न तिवारी उर्फ चोकर बाबा के प्रतिनिधि जितेंद्र प्रसाद ने परिजनों से मिलकर घटना की जानकारी ली तथा प्राकृतिक आपदा के तहत हुई मौत पर दुख जताया.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें