चुनाव कराना पूर्णतः टीम वर्क का कार्य, इसके लिए आपसी समन्वय और तालमेल बहुत आवश्यक: जिला निर्वाचन पदाधिकारी

चुनाव कराना पूर्णतः टीम वर्क का कार्य, इसके लिए आपसी समन्वय और तालमेल बहुत आवश्यक: जिला निर्वाचन पदाधिकारी

Chhapra: चुनाव कराना पूर्णतः टीम वर्क का कार्य है. इसके लिए आपसी समन्वय और तालमेल बहुत आवश्यक है. उक्त बातें जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिला पदाधिकारी अमन समीर ने लोकसभा चुनाव के लिए गठित सभी कोषांगों के वरीय प्रभारी पदाधिकारी और नोडल पदाधिकारियों के साथ शुक्रवार को देर संध्या में परिसदन में आयोजित प्रथम बैठक में कहीं. उन्होंने कहा कि यह बैठक कोषांगों के अधिकारियों के समन्वय और मेलजोल के लिए आयोजित की गयी है.

उन्होंने कहा कि चुनाव एक वृहद आयोजन है. सभी कोषांग एक दूसरे से जुड़े हुए होते हैं. एक का कार्य सापेक्ष रूप से दूसरे के कार्य को आगे बढ़ाता है. डीएम श्री समीर ने कहा कि निर्वाचन कार्य 80 प्रतिशत प्लानिंग और 20 प्रतिशत क्रियान्वयन पर आधारित है. उन्होंने सभी वरीय और नोडल पदाधिकारियों को चुनावी मोड में आने की बात कहते हुए कहा कि अपने कोषांग के कार्य और दायित्व को ठीक ढंग से समझ कर योजना का संधारण करें. साथ ही एक टाइम फ्रेम निर्धारित कर उसे समय पर पूरा करने की योजना बनाएँ एवं त्रुटिरहित क्रियान्वयन करें.

उन्होंने आयोग द्वारा उपलब्ध कराए गए हैंडबुक, चेकलिस्ट, डूज एंड डाॅन्टस, कंपेडियम आदि सभी मैटेरियल को सूक्ष्मता से अध्ययन कर प्रत्येक कार्य नियम, गाइडलाइन और एसओपी के अनुरूप करने का आग्रह किया. डीएम ने सभी अधिकारियों को इवीएम परिचालन सीखने का निदेश दिया. उन्होंने इसके लिए एक विशेष हैंड्सऑन प्रशिक्षण आयोजित करने का आदेश दिया. कार्मिकों के प्रशिक्षण पर उन्होंने खास जोर देते हुए मास्टर ट्रेनर के माध्यम से इवीएम हैंडलिंग, विभिन्न प्रपत्रों को भरने और मोबाईल ऐप के ईस्तेमाल आदि को सूक्ष्मता और दक्षता से सिखाने को कहा. उन्होंने कहा कि कर्मियों को इस प्रकार दक्ष किया जाए कि रिसीविंग सेंटर पर उन्हें परेशान न होना पड़े. डीएम ने अधिकारियों को दबाव और घबराहट से बचते हुए कार्य को सटीकता, सुगमता और सरलता से संपन्न करने का निदेश दिया.

बैठक में उपस्थित एसपी डॉ गौरव मंगला ने कहा कि आदर्श आचार संहिता सभी अधिकारियों और कर्मी पर भी प्रभावी होता है. हमारा आचार-व्यवहार उसके अंतर्गत ही आना चाहिए. स्वयं को बिल्कुल निष्पक्ष और न्यूट्रल रखते हुए कार्य को त्रुटि रहित और पारदर्शिता के साथ करने का प्रयास करना होगा. उन्होंने पुलिस अधिकारियों को भी चुनाव के परिपेक्ष्य में प्रशिक्षित करने की योजना पर बात की. संबंधित अधिकारियों को केंद्रीय अर्धसैनिक बल के आवासन, आवागमन समेत आवश्यक सुविधाओं को पूर्व से पूरा करने को कहा. उप निर्वाचन पदाधिकारी जावेद एकबाल ने आयोग के दिशा निर्देश और एसओपी से सभी को विस्तार से अवगत कराया. इस अवसर पर सभी पदाधिकारियों ने अपने पूर्व के अनुभव को शेयर किया. डीएम ने उससे सीख और लाभ लेने को कहा.

बैठक में डीडीसी प्रियंका रानी, नगर आयुक्त सुमित कुमार, सहायक जिलाधिकारी श्रेयाश्री, एडीएम मो मुमताज आलम, एडीएम विधि व्यवस्था नीरज कुमार दास, एसडीएम सोनपुर, एडीएम पीजीआरओ संजय कुमार, निदेशक डीआरडीए कैयूम अंसारी, एसडीओ सदर संजय कुमार राय, डीसीएलआर गौरव शंकर, डीसीओ हरिशंकर कुमार, डीटीओ शंकर शरण ओमी, डीएसओ कमर आलम, टीओ कुमार विजय प्रताप, सहायक टीओ संजय कुमार सुमन, भूअर्जन पदाधिकारी राजेश कुमार, अवर निबंधक गोपेश कुमार चौधरी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी रविंद्र कुमार, डीईओ दिलीप कुमार, डीपीओ स्थापना धनंजय पासवान, डीपीओ आईसीडीएस कुमारी अनुपमा, आईटी प्रबंधक मिश्रा, डीडब्लूओ योगेन्द्र कुमार, डीएमडब्लूओ रजनीश कुमार राय, एसजीपीआरओ प्रमोद कुमार, डीपीआरओ नरेंद्र कुमार सिंह, अवर निर्वाचन पदाधिकारी अखलाक अंसारी आदि उपस्थित थे.

0Shares
Prev 1 of 226 Next
Prev 1 of 226 Next

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें