ब्रसेल्स में आतंकी हमले में कम से कम 35 लोगों की मौत, कई घायल

ब्रसेल्स: बेल्जियम की राजधानी ब्रसेल्स के हवाई अड्डे और एक मेट्रो स्टेशन पर मंगलवार को हुए विस्फोटों में करीब 35 लोगों की मौत हो गई और 200 से अधिक घायल हो गए. हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट ने ली है.

विस्फोटों के बाद बेल्जियम में भीषण आतंकी खतरे की चेतावनी जारी कर दी गयी और साथ ही पूरे यूरोप में सुरक्षा कड़ी कर दी गई. बेल्जियम के प्रधानमंत्री चार्ल्स माइकल ने इस हमले को ‘हिंसक और कायरतापूर्ण’ करार देते हुए कहा, ‘यह त्रासदी का दिन है, काला दिन है.’ जेवेन्तम एयरपोर्ट के मुख्य कक्ष में दो विस्फोट दिन में भारतीय समयानुसार करीब 11:30 बजे हुए. अभियोजक फ्रेदरिक वाल लीवू ने कहा कि इस हमले में एक आत्मघाती हमलावर शामिल हो सकता है.

तीसरा विस्फोट यूरोपीय संघ की मुख्य इमारत के समीप मालबीक मेट्रो स्टेशन पर हुआ. आफिस का समय होने के कारण मेट्रो स्टेशन पर भीड़ थी और साथ ही हवाई अड्डे पर भी चेकइन करने के लिए बड़ी संख्या में यात्री मौजूद थे.
अग्निशमन सेवा के एक प्रवक्ता ने बताया कि हवाई अड्डे पर हुए विस्फोटों में 14 लोगों की मौत हो गई और 90 से अधिक घायल हो गए. प्रवक्ता ने कहा, ‘96 लोग घायल हुए हैं और 14 की मौत हो गई है. ये आंकड़े बदल सकते हैं.’ ब्रसेल्स के मेयर युवान मेयूर ने कहा कि मेट्रो स्टेशन पर हुए धमाके में करीब 20 लोगों की मौत हो गई और 106 लोग घायल हो गए.
विस्फोट के बाद हवाई अड्डे पर अफरा-तफरी मच गई, यात्री इधर-भागते देखे गए। हवाई अड्डे की इमारत से धुआं उठता देखा गया और खिड़कियों के शीशे टूट गए. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि हवाई अड्डे पर विस्फोटों से पूर्व अरबी भाषा में नारेबाजी सुनी गयी. पुलिस कारों और बचाव वाहनों के घटना स्थल के लिए दौड़ने के बीच ट्विटर पर हवाई अड्डा प्राधिकरण ने लिखा, ‘हवाई अड्डे में दो विस्फोट हुए हैं. इमारत को खाली कराया गया है. हवाई अड्डा क्षेत्र में न न आएं.’
हमले के बाद यूरोप और दुनिया भर के नेताओं ने बेल्जियम के प्रति संवेदना और एकजुटता प्रकट की. अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने हमले को ‘आक्रोशित करने वाला’ करार दिया और कहा कि अमेरिका जिम्मेदार लोगों को पकड़ने के लिए हर प्रयास करेगा.

0Shares
A valid URL was not provided.