सदर अस्पताल में 10 बेडवाले नशामुक्ति केन्द्र का आयुक्त एवं डीएम ने किया उद्घाटन

सदर अस्पताल में 10 बेडवाले नशामुक्ति केन्द्र का आयुक्त एवं डीएम ने किया उद्घाटन

छपरा: पूरे राज्य में आगामी 1 अप्रैल से देशी शराब की बिक्री एंव पीने पर पूर्ण प्रतिबंध लागू हो जाएगा. इसी क्रम में सदर अस्पताल परिसर के प्रथम तल पर 10 बेड वाले अत्याधुनिक सुविधाओं से लैश पूर्ण वातानूकूलित नशा मुक्ति केन्द्र का उद्घाटन मंगलवार को बिहार दिवस के अवसर पर प्रमंडलीय आयुक्त प्रभात शंकर एवं डीएम दीपक आनंद ने किया.

उद्घाटन के बाद अधिकारियों ने नशा मुक्ति केन्द्र में उपलब्ध सुविधाओं का अवलोकन किया और पूर्ण संतुष्टि व्यक्त की. दरअसल नशा मुक्ति में ऐसे रोगियों का इलाज होगा जो शराब पीने के बिना नहीं रह सकते. ऐसे रोगियों को जिले में चिन्ह्ति कर उनका काउंसलिंग तथा चिकित्सकीय परामर्श के आधार पर इलाज होगा ताकि वे स्वस्थ जीवन जीकर समाज में अपनी अहम भूमिका निभा सकें.

इस अवसर पर प्रमंडलीय आयुक्त ने कहा कि यह नशा मुक्ति केन्द्र अपने उद्देश्य में तभी सफल माना जाएगा जब रोगी इलाज के बाद स्वयं कहे कि मुझे नई जिन्दगी मिली है. यह काम आसान नहीं है किन्तु उन्हें आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि हमारे डाॅक्टर, काउन्सलर जी तोड़ मेहनत करेंगे और सारण का नशा मुक्ति केन्द्र राज्य में एक मिशाल कायम करेगा.

डीएम दीपक आनंद ने कहा कि सरकार के निर्देश पर 10 बेड का नशा मुक्ति केन्द्र बनाया गया है और जरूरत पड़ी तो बेड़ों की संख्या बढ़ायी जाएगी. उन्होंने कहा कि यह नशा मुक्ति केन्द्र अपने उद्देश्यों में पूर्ण सफल होगा. लोगों में नशा मुक्ति के प्रति जागरूकता का संदेश हमें पहुंचाना होगा.

कार्यक्रम में डा. शिखा रानी, डीटीओ श्याम किशोर, डीपीआरओ बीके शुक्ला, सिविल सर्जन, उपाधीक्षक सदर अस्पताल समेत नशा मुक्ति हेतु प्रशिक्षित डाॅक्टरो ने भी अपनी बात रखी. इस अवसर पर आयुक्त की धर्मपत्नी समेत जिला स्वास्थ्य समिति के डाक्टर, पदाधिकारी, कर्मी उपस्थित थे.

0Shares
Prev 1 of 245 Next
Prev 1 of 245 Next

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें