इतिहास के पन्नों मेंः 20 अप्रैल

इतिहास के पन्नों मेंः 20 अप्रैल

क्रूरतम तानाशाह का जन्मः 20 अप्रैल 1889 को दुनिया के सबसे क्रूर तानाशाह की पहचान रखने वाले एडोल्फ हिटलर का जन्म हुआ था। हिटलर के कारण दुनिया का सबसे विनाशकारी द्वितीय विश्वयुद्ध हुआ, जिसमें लाखों लोगों की जान गयी।
जोश और उन्माद से भरे भाषणों के लिए अपने समर्थकों में मशहूर इस जर्मन तानाशाह ने पहले विश्वयुद्ध में जर्मनी की हार के बाद 1918 में राष्ट्रीय समाजवादी जर्मन कामगार पार्टी बनायी, जिसे नाजी पार्टी भी कहा जाता है। उसने प्रथम विश्वयुद्ध में हार के लिए यहूदियों को दोषी ठहराया और आम लोगों के दिलों में यहूदियों के खिलाफ नफरत को हवा दी। नतीजा यह हुआ कि तकरीबन 60 लाख यहूदियों की हत्या हुई। कहा जाता है कि रूसी फौजियों से घिरने के बाद 10 अप्रैल 1945 को बर्लिन के एक बंकर में इस तानाशाह ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली।
अन्य अहम घटनाएंः
1912- काउंट ड्रैकुला किरदार की रचना करने वाले आयरिश उपन्यासकार ब्रैम स्टोकर का निधन।
1939- जर्मन तानाशाह हिटलर के 50वें जन्मदिन को राष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाया गया।
1953- कोरिया एवं संयुक्त राष्ट्र सेना के बीच बीमार युद्धबंदियों का आदान-प्रदान।
1972-  छह घंटों तक संकट से जूझने के बाद अपोलो-16  चंद्रमा पर उतरा। जॉन यंग और चार्ल्स ड्यूक की टीम चांद पर उतरने वाली इतिहास की पांचवीं टीम बनी।
1997- इंद्र कुमार गुजराल भारत के 12 वें प्रधानमंत्री बने।
1999- अमेरिका के डेनवर के कोलंबाइन स्कूल में हाईस्कूल के दो छात्रों ने अंधाधुंध गोलीबारी में 25 लोगों को मार डाला।

 

0Shares
Prev 1 of 225 Next
Prev 1 of 225 Next

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें