ISRO ने भारत में बने स्पेस शटल RLV-TD को सफलतापूर्वक किया लॉन्च

ISRO ने भारत में बने स्पेस शटल RLV-TD को सफलतापूर्वक किया लॉन्च

श्रीहरिकोटा: भारत में बने स्पेस शटल RLV-TD को सोमवार को भारतीय अंतरिक्ष शोध संस्थान (ISRO) ने स्पेस सेंटर से लॉन्च किया. अमेरिकी स्पेस शटल जैसा दिखने वाला ये शटल फिलहाल प्रयोग की स्थिति में है और अपने असली साइज से 6 गुना छोटा है.

RLV-TD का मुख्य लक्ष्य पृथ्वी की कक्षा में उपग्रह पहुंचाना और फिर वायुमंडल में दोबारा प्रवेश करना है. शटल को एक ठोस रॉकेट मोटर से ले जाया जाएगा. नौ मीटर लंबे रॉकेट का वजन 11 टन है. RLV-TD के लॉन्चिंग सुबह करीब 6:30 बजे हुई.

अमेरिकी स्पेस शटल की तरह दिखने वाले डबल डेल्टा पंखों वाले यान को एक स्केल मॉडल के रूप में प्रयोग के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है. ये एक रियूजेबल लॉन्च व्हीकल है. ऐसा पहली बार हो रहा है, जब इसरो एक स्पेस क्राफ्ट लॉन्च कर रहा है, जिसमें डेल्टा विंग्स होंगे. लॉन्च के बाद ये स्पेस क्राफ्ट बंगाल की खाड़ी में वापस उतर आएगा. इस स्पेस क्राफ्ट के बनने में 5 साल का समय लगा और 95 करोड़ रुपये का खर्च आया है. ये फ्लाइट इस स्पेस क्राफ्ट की हायपर सोनिक एक्सपेरिमेंट स्पीड पर री-एंट्री को झेल पाने की क्षमता का आकलन करेगी.

प्रधानमंत्री ने दी बधाई
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर वैज्ञानिकों उनकी इस सफलता के लिए बधाई दी है. पीएम ने कहा भारत के पहले स्वदेशी अंतरिक्ष शटल RLV-टीडी की लॉन्चिंग हमारे वैज्ञानिकों के मेहनती प्रयासों का परिणाम है. 

0Shares
Prev 1 of 186 Next
Prev 1 of 186 Next

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें