आपातकाल के काले दिनों को कभी भुलाया नहीं जा सकता: प्रधानमंत्री मोदी

आपातकाल के काले दिनों को कभी भुलाया नहीं जा सकता: प्रधानमंत्री मोदी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को आपातकाल की 46वीं बरसी पर भारतीय इतिहास के काले अध्याय को याद करते हुए कांग्रेस पर हमला बोला। प्रधानमंत्री ने कहा कि आपातकाल के काले दिनों को कभी भुलाया नहीं जा सकता। उन्होंने आपातकाल का विरोध कर भारतीय लोकतंत्र की रक्षा करने वालों को भी याद किया।

उल्लेखनीय है कि आज ही के दिन 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने देश में आपातकाल की घोषणा की थी।

राष्ट्रपति बनने के बाद रामनाथ कोविंद पहली बार जाएंगे अपने पैतृक गांव परौंख

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर लिखा, “आपातकाल के काले दिनों को कभी भुलाया नहीं जा सकता। आपातकाल यानि 1975 से 1977 की अवधि में संस्थानों का व्यवस्थित विनाश देखा गया।” उन्होंने ट्वीट में आगे लिखा, “आइए हम भारत की लोकतांत्रिक भावना को मजबूत करने के लिए हर संभव प्रयास करने का संकल्प लें और हमारे संविधान में निहित मूल्यों पर खरा उतरें।”

बिहार के मुजफ्फरपुर में सड़क दुघर्टना में चार की मौत, करीब 18 लोग घायल

प्रधानमंत्री ने आपातकाल लगाकर जनता के संवैधानिक अधिकारों को खत्म करने के लिए काग्रेस पर हमला करते हुए लिखा, “इस तरह कांग्रेस ने हमारे लोकतांत्रिक लोकाचार को कुचला।” मोदी ने इस दौरान आपातकाल के खिलाफ संघर्ष करने वालों का याद करते हुए कहा, “हम उन सभी महानुभावों को याद करते हैं जिन्होंने आपातकाल का विरोध किया और भारतीय लोकतंत्र की रक्षा की।”

प्रधानमंत्री ने अपने ट्विटर हैंडल पर भारतीय जनता पार्टी के इंस्टाग्राम पोस्ट को भी शेयर किया है। इसमें बताया गया कि आपातकाल के दौरान कांग्रेस की ओर से लोकतांत्रिक विचारों का कुचला गया था।

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें