समान कार्य के लिए समान वेतन देने का फैसला बदलेगी शिक्षकों की दशा

समान कार्य के लिए समान वेतन देने का फैसला बदलेगी शिक्षकों की दशा

Chhapra:सूबे के नियोजित शिक्षकों को हाइकोर्ट ने समान कार्य के लिए समान वेतन देने फैसला सुनाया है.

शिक्षको द्वारा दायर याचिका के बाद विगत दिनों इसको लेकर फैसले को सुरक्षित रख लिया गया था और फैसला सुनाने की तिथि घोषित कर दी थी.

मंगलवार को हाइकोर्ट के फैसले पर पूरे राज्य के नियोजित शिक्षकों की नज़र टिकी थी. न्यायाधीश ने जैसे ही अपना फैसला सुनाया शिक्षकों के चेहरें पर एक नई उम्मीद की किरण छा गयी.

राजधानी से लेकर राज्य के सुदूर गांव तक के नियोजित शिक्षकों ने इस फैसले के प्रति न्यायालय का आभार व्यक्त किया.

न्यायालय के फैसले पर सारण जिला परिवर्तनकारी शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष समरेंद्र बहादुर ने इसे शिक्षक हित मे एक बड़ा फैसला बताया.

उन्होंने कहा कि माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा पूर्व में समान कार्य को लेकर समान वेतन देने के फैसला सुनाया था अब हाईकोर्ट ने भी अपना फैसला सुनाकर एक ही जगह पर कार्य कर रहे दो कर्मचारियों के बीच की वेतन विसंगति को समाप्त कर दिया है.

फैसले के बाद शिक्षकों द्वारा अपनी खुशी का इजहार करते हुए एक दूसरे को गुलाल लगाते हुए मिठाई खिलाई.इस मौके पर विकास कुमार, मुकेश कुमार, अभय सिंह सहित दर्जनों शिक्षक मौजूद थे.

उधर न्यायालय के फैसले का स्वागत बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के नेताओं ने स्वागत किया है.

संघ के जिलाध्यक्ष राकेश कुमार सिंह ने बताया कि यह शिक्षकों की जीत है. माननीय न्यायालय ने नियोजित शिक्षको को इस फैसले के बाद नई दिशा देने का काम किया है.

शिक्षक राजेश कुमार तिवारी, दिनेश गुप्ता सहित जिले के हजारों शिक्षकों ने इस फैसले के प्रति न्यायालय का आभार व्यक्त किया है.

0Shares
Prev 1 of 226 Next
Prev 1 of 226 Next

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें