बस के छत पर सवारी करने वाले जाएंगे जेल, पेट्रोल पम्प कैम्पस में सीसीटीवी कैमरा लगाने के निर्देश

बस के छत पर सवारी करने वाले जाएंगे जेल, पेट्रोल पम्प कैम्पस में सीसीटीवी कैमरा लगाने के निर्देश

छपरा: जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक बुधवार को जिलाधिकारी दीपक आनंद की अध्यक्षता हुई. बैठक में जिलाधिकारी ने जिला परिवहन पदाधिकारी, सभी अनुमंडल पदाधिकारी, सभी थानाध्यक्ष, सभी अंचलाधिकारी एवं सभी यातायात प्रभारी को निर्देश दिया कि जिस बस की छत पर सवारी की जा रही है, उस बस को थाने में लगाया जाय तथा बस के छत पर सवारी करने वाले एवं बस मालिक के उपर आईपीसी तथा परिवहन अधिनियम के सुसंगत धाराओं के अन्तर्गत प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जाय. उन्होंने कहा कि बस की छत पर सवारी करने वाले जाएंगे जेल, बस मालिक पर प्राथमिकी दर्ज होगी.

बैठक में जिला पदधिकारी ने जिला मुख्यालय के सभी पेट्रोल पम्प मालिको को निर्देश दिया कि अपने-अपने पेट्रोल पम्प कैम्पस में सीसीटीवी कैमरा स्थापित कर रिर्पोट दें. जो पेट्रोल पम्प मालिक सीसीटीवी कैमरा नहीं लगाएंगे, उनपर सुसंगत धाराओं के अन्तर्गत कार्रवाई की जायेगी.

सदर अस्पताल में ट्रामा सेंटर स्थापित करने के निर्देश
जिलाधिकारी दीपंक आनंद ने असैनिक शल्य चिकित्सक -सह- मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी को निर्देश दिया कि सदर अस्पताल में इमरजेन्सी ट्रामा सेन्टर स्थापित करे, जिसके दूरभाष नं0 को व्यापक रूप से प्रचारित एवं प्रसारित करे. ट्रौमा सेन्टर में सभी तरह की चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध रहे. उन्होंने कहा कि दुर्घटना के बाद रोड जाम करने वाले के विरूद्ध आईपीसी की सुसंगत धाराओ के अन्तर्गत कार्रवाई की जायेगी. उन्होंने वैसे सभी बसो की चेकिंग करवाने का निर्देश जिला परिवहन पदाधिकारी श्याम किशोर को दिया जिसमें शीशा नहीं है.

नियमित रूप से हैलमेट चेकिंग के निर्देश
जिलाधिकारी ने जिला परिवहन पदाधिकारी, सभी थानाध्यक्ष एवं सभी यातायात प्रभारी को निर्देश दिया कि हैलमेट चेकिंग नियमित रूप से किया जाय. हेलमेट के बिना दोपहिया वाहन पर सवारी करने वाले चालको पर नियमानुसार कार्रवाई करे. उन्होंने जिला परिवहन पदाधिकारी को निर्देश दिया कि ब्रेथ एनालाईजर के द्वारा वाहन चालको की जांच की जाय. शराब पीकर वाहन चलाने वाले चालको पर कड़ी कार्रवाई की जाय. जिला पदाधिकारी ने कार्यपालक अभियंता पथ निर्माण विभाग राजकुमार को निर्देश दिया कि सड़क पर यातायात चिन्ह लगाए.

जिलाधिकारी ने कहा कि सड़क दुर्घटना में मृतको की संख्या निरंतर बढ़ती जा रही है. सर्वेक्षण में पाया गया है कि 78 प्रतिशत दुर्घटनाएं चालको की लापरवाही एवं गलती के कारण होती है, जिसमें चालको एवं आम जनता में यातायात नियमो की जानकारी का अभाव होना भी है. सड़क पर तेज रफ्तार से गाड़ियो, लोगो में लापरवाही, उदासीनता तथा लहेरियाकट वाहन परिचालन थ्री व्हीलर एवं ट्रिपल राईडर्स द्वारा तेज गति में मोटर साईकिल परिचालन एवं यातायात नियमो के उल्लंघन के कारण भी सड़क दुर्घटना हो रही है। सड़क सुरक्षा के प्रति चालको, आम जनता में यातायात नियमों के अनुपालन एवं जागरूकता संबंधी अनेक कार्यक्रम कराये जाने है. उन्होंने कहा कि जिला परिवहन पदाधिकारी को निर्देश दिया गया है कि सारण जिले में सभी संबंधित पक्षों, सरकारी एवं गैर सरकारी संस्थानो का सहयोग प्राप्त कर सड़क सुरक्षा के प्रति चालको, आम जनता, छात्र-छात्राएं में यातायात नियमों के अनुपालन एवं जागरूकता संबंधी अनेक कार्यक्रम आयोजित कराये जाए.

बैठक में जिला परिवहन पदाधिकारी श्याम किशोर, कार्यपालक अभियंता पथ निर्माण राजकुमार, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी अनिल कुमार चौधरी, समाजिक कार्यकर्ता सहित सभी संबंधित पदाधिकारी एवं सदस्य उपस्थित थे.

0Shares
Prev 1 of 186 Next
Prev 1 of 186 Next

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें