दरियापुर के हल्दिया चौर को आर्द्र भूमि (वेट लैंड) के रूप में दर्जा देने के लिये राज्य स्तरीय समिति को अनुशंसा भेजने का लिया गया निर्णय

दरियापुर के हल्दिया चौर को आर्द्र भूमि (वेट लैंड) के रूप में दर्जा देने के लिये राज्य स्तरीय समिति को अनुशंसा भेजने का लिया गया निर्णय

Chhapra: सारण जिला के दरियापुर अंचल स्थित हल्दिया चौर को आर्द्र भूमि (वेट लैंड) के रूप में मान्यता प्रदान करने हेतु जिला स्तरीय समिति द्वारा अनुशंसा की जा रही है।

इस संबंध में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला स्तरीय समिति पूर्व से गठित है। वन प्रमंडल पादधिकारी इसके सदस्य सचिव हैं। इस समिति की बैठक में इस आर्द्र भूमि के संदर्भ में राज्यस्तरीय समिति के समक्ष अनुशंसा भेजने का निर्णय लिया गया।

हल्दिया चौर लगभग 37 एकड़ क्षेत्रफल में फैला हुआ है। वर्तमान में इसमें मत्स्यपालन किया जाता है, जिसकी बंदोबस्ती मत्स्य विभाग द्वारा की जाती है।

वेटलैंड के रूप में मान्यता मिलने के उपरांत इसके विकास एवं संरक्षण हेतु राशि प्राप्त हो सकेगी जिससे इसका बेहतर रख रखाव हो सकेगा। इसमें अनुमान्य गतिविधियों की अनुमति होगी।एक्वाकल्चर हेतु निदेशक मत्स्यपालन द्वारा अनुमति प्रदान की जा सकेगी।

0Shares
A valid URL was not provided.