हिंद महासागर क्षेत्र में शुरू हुआ नौसेना का सबसे बड़ा युद्धाभ्यास ‘ट्रोपेक्स’

हिंद महासागर क्षेत्र में शुरू हुआ नौसेना का सबसे बड़ा युद्धाभ्यास ‘ट्रोपेक्स’

– तीन माह तक चलने वाले इस द्विवार्षिक अभ्यास में होगी हथियारों से प्रत्यक्ष फायरिंग
– युद्ध संचालन के विभिन्न पहलुओं को शामिल करके बंदरगाह और समुद्र चरण होंगे

नई दिल्ली, 24 जनवरी (एजेंसी )। भारतीय नौसेना के प्रमुख समुद्री अभ्यास ‘ट्रोपेक्स’ हिंद महासागर क्षेत्र में शुरू हुआ है। तीन माह तक चलने वाले इस द्विवार्षिक अभ्यास में न सिर्फ भारतीय नौसेना की सभी इकाइयां भाग ले रही हैं, बल्कि इसमें भारतीय थल सेना, भारतीय वायु सेना और तटरक्षक बल से जुड़े हथियार, जहाज और विमानों की भी भागीदारी है। अभ्यास के दौरान हथियारों से प्रत्यक्ष फायरिंग सहित युद्ध संचालन के विभिन्न पहलुओं को शामिल किया जा रहा है।

नौसेना प्रवक्ता कमांडर विवेक मधवाल ने बताया कि हिंद महासागर क्षेत्र में 23 जनवरी से शुरू हुआ ‘ट्रोपेक्स’ युद्धाभ्यास 23 मार्च यानी तीन महीने तक चलेगा। इस अभ्यास के हिस्से के रूप में ऑपरेशनल लॉजिस्टिक्स और अन्य सेवाओं के साथ नौसेना के संचालन की अवधारणा को मान्य करने के लिए विध्वंसकों, युद्धपोतों, कार्वेट के साथ-साथ पनडुब्बियों और विमानों सहित भारतीय नौसेना की सतह पर स्थित सभी लड़ाकू इकाइयों को जटिल समुद्री परिचालन तैनाती से गुजारा जाता है। यह अभ्यास हथियारों से प्रत्यक्ष फायरिंग सहित युद्ध संचालन के विभिन्न पहलुओं को शामिल करते हुए बंदरगाह और समुद्र के विभिन्न चरणों में होगा।

उन्होंने बताया कि पिछले कुछ वर्षों में कार्यक्षेत्र और जटिलता में वृद्धि होने के बाद यह अभ्यास बहु-खतरे वाले वातावरण में काम करने के लिए भारतीय नौसेना के संयुक्त बेड़े के लड़ाकू तैयारी का परीक्षण करने का मौका देगा। यह समुद्री अभ्यास भारतीय थल सेना, भारतीय वायु सेना और तटरक्षक बल के साथ संचालन स्तर के आदान-प्रदान की सुविधा देगा, जिससे जटिल वातावरण में संयुक्त अभियान को और मजबूती मिलेगी।

0Shares
Prev 1 of 186 Next
Prev 1 of 186 Next

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें