आंगनबाड़ी, आशा कार्यकर्ताओं को एक मार्च से मिलेगा आयुष्मान भारत-पीएमजेएवाई का लाभ

आंगनबाड़ी, आशा कार्यकर्ताओं को एक मार्च से मिलेगा आयुष्मान भारत-पीएमजेएवाई का लाभ

नई दिल्ली, 10 फरवरी (हि.स.)। आंगनबाड़ी और आशा कार्यकर्ताओं को एक मार्च से आयुष्मान भारत- प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएमजेएवाई) का लाभ मिलने लगेगा। इसके लिए वित्त मंत्रालय ने मंजूरी दे दी है। एक फरवरी को पेश अंतरिम बजट में आंगनबाड़ी, आशा कार्यकर्ताओं को आयुष्मान भारत -पीएमजेएवाई योजना में शामिल करने की घोषणा की गई थी।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव अर्पूव चंद्रा ने शनिवार को नई दिल्ली में मीडिया को बताया कि वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण में कोरोना के दौरान कार्य करने वाले फ्रंटलाइन हेल्थ वर्करों, सभी आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और आंगनबाड़ी सहायिकाओं को आयुष्मान भारत-पीएमजेएवाई योजना में शामिल करने की घोषणा की थी। इस योजना को वित्त मंत्रालय से भी मंजूरी मिल गई है। इन सभी कार्यकर्ताओं को एक मार्च से आयुष्मान भारत-पीएमजेएवाई में शामिल किया जाएगा। इस फैसले से लगभग 35 लाख आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और आंगनबाड़ी सहायिकाओं को लाभ होगा।

योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 23 सितंबर 2018 को झारखंड की राजधानी रांची में की थी। विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना आयुष्मान भारत- पीएमजेएवाई का मुख्य उद्देश्य प्रति परिवार प्रति वर्ष पांच लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज प्रदान करना है। आयुष्मान कार्ड धारक किसी भी एम्पैनल्ड अस्पताल में पांच लाख रुपये तक का इलाज करवा सकते हैं।

0Shares
A valid URL was not provided.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें