जयप्रकाश महिला महाविद्यालय में कुलपति ने किया औचक निरीक्षण, निरीक्षण के दौरान प्राचार्या ही थी अनुपस्थित

जयप्रकाश महिला महाविद्यालय में कुलपति ने किया औचक निरीक्षण, निरीक्षण के दौरान प्राचार्या ही थी अनुपस्थित

Chhapra: कुलपति प्रो फारूक अली ने छात्रों की उपस्थिति जानने एवं शिक्षकों की जानकारी लेने के लिए शनिवार को जयप्रकाश महिला महाविद्यालय में औचक निरीक्षण किया.

विश्वविद्यालय के पीआरओ ने डॉ हरिश्चन्द ने बताया कि कुलपति के निरीक्षण के दौरान प्राचार्या डा मधुप्रभा महाविद्यालय में उपस्थित नहीं थी. उन्होंने बताया कि कुलपति के जाने के बाद वे आयीं औऱ उन्होने बताया की वे पटना थीं.

कुलपति ने कक्षाओं मे जाकर सभी वर्ग की जानकारी ली. भौतिक विज्ञान के प्रतिष्ठा के वर्ग में 64 में से 6 छात्रा उपस्थित थीं.

कुलपति  ने कहा कि छात्राओं की उपस्थिति 1, 2 फिर 3 इस प्रकार बनाया जाए और जो छात्र नही आते हैं उनके अभिभावकों से मोबाइल पर बात की जाए और उन्हें बुलाया जाए. कक्षा में रीता कुमारी नामक छात्रा 40 किलोमीटर दूर मढौरा से आयी थी. रसायन शास्त्र में केवल एक छात्रा आयी थी. इतिहास में 4 छात्राएं आयीं थीं.

पीआरओ ने बताया कि जब शिक्षकों के उपस्थिति पंजी की जांच की गयी तो ज्ञात हुआ कि बबिता बर्धन नामक शिक्षिका का न तो कोई लीव का आवेदन था और न ही उपस्थिति पंजी मे उपस्थिति ही बनी थी. उन्होंने बताया कि उनपर शोकाज होगा और नियम संगत कार्यवाई की जायेगी. वही महाविद्यालय के सफाईकर्मी बाबूलाल भी कई दिनों से अनुपस्थित पाए गए है.

बात दें कि जयप्रकाश विश्वविद्यालय के कुलपति के द्वारा विश्वविद्यालय और महाविद्यालयों में छात्राओं की उपस्थिति, शिक्षकों की स्थिति जानने के लिए लगातार निरीक्षण कर रहे है, ताकि शैक्षणिक व्यवस्था को सुदृढ किया जा सके.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें