दो दिवसीय सांस्कृतिक कार्यशाला का हुआ समापन

दो दिवसीय सांस्कृतिक कार्यशाला का हुआ समापन

छपरा: स्थानीय सरस्वती शिशु विद्या मंदिर में आयोजित दो दिवसीय सांस्कृतिक कार्यशाला का सफलतापूर्वक समापन हो गया. शुक्रवार से चल रहे इस कार्यशाला के कुल 8 सत्रों में विशेषज्ञों के द्वारा विभिन्न विषय जैसे लोकसंगीत, लोक नृत्य, शास्त्रीय संगीत, निबंध लेखन के माध्यम से विद्यार्थियों को भारतीय संस्कृति के महत्व को बताया गया. विद्यार्थियों ने समापन सत्र में सभी विधाओं का प्रदर्शन किया.

समापन सत्र के मुख्य अतिथि जेपीयू के पूर्व कुलसचिव विजय प्रताप कुमार ने कहा कि दो दिनों में विद्यार्थियों को जिस प्रकार भारतीय संस्कृति से अवगत कराया गया उसके प्रस्तुतीकरण से यह साबित होता है कि कार्यशाला सफल रही है. कार्यशाला के विषय विशेषज्ञ अमियनाथ चटर्जी, सलोना प्रसाद श्रीवास्तव, लावण्य कीर्ति सिंह, उदय नारायण सिंह एवं प्रियंका कुमारी के नेतृत्व में विद्यार्थियों को विभिन्न विषयों की जानकारी दी गई.

विद्यालय के प्राचार्य रामदयाल शर्मा ने समापन सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि भारतीय संस्कृति मंत्रालय एवं विद्या भारती शिक्षण संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित इस दो दिवसीय कार्यशाला में विभिन्न विद्यालयों के 550 विद्यार्थियों को ‘ भारतीय संस्कृति के संरक्षण, संवर्धन एवं उत्थान के लिए विभिन्न विषयों के माध्यम से अवगत कराया गया.

समापन सत्र में डॉ. सुधा बाला, सुरेश प्रसाद सिंह , रामनरेश मिश्र तथा विद्यालय के सभी आचार्य उपस्थित रहे. कार्यक्रम का धन्यवाद ज्ञापन सुभाष चंद्र श्रीवास्तव ने किया.

0Shares

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें