इंटरमीडिएट परीक्षा के दौरान यातायात सुदृढ़ करना होगी बड़ी चुनौती

इंटरमीडिएट परीक्षा के दौरान यातायात सुदृढ़ करना होगी बड़ी चुनौती

छपरा: बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा आयोजित इंटरमीडिएट परीक्षा 2016 की पूरी तैयारी हो चुकी है. जिले के 56 केन्द्रों पर आयोजित होने वाली इस परीक्षा में 63 हजार परीक्षार्थी शामिल होंगे.

परीक्षा को कदाचार मुक्त संपन्न कराने को लेकर जिला प्रशासन एवं शिक्षा विभाग चुस्त दुरुस्त है लेकिन हर बार कि तरह इस बार भी यातायात व्यवस्था को कंट्रोल में रखना पुलिस एवं यातायात पुलिस के लिए बड़ी चुनौती होगी. एनी दिनों की तरह ऑफिस , स्कूल एवं दुकानों पर जाने वाले लोगों के वाहनों के साथ साथ ठीक उसी समयावधि में परीक्षार्थियों तथा उनके अभिभावक भी सड़कों पर होंगे. जो यातायात पुलिस के लिए चुनौती है. संक्रिण सड़कों पर एक ही समय में हजारों लोगों का चलना और समय की मारा मारी के कारण पहले निकलने की होड़ यातायात को ध्वस्त कर सकती है.

हालाकि यातायात पुलिस द्वारा यातायात के मद्देनज़र व्यापन इंतजाम किये गए है. जिसमे वन-वे सिस्टम पूरी तरह लागू होने की बात कही जा रही है. सभी चौक चौराहों पर अतिरिक्त पुलिस बलों के अलावे दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की योजना बन रही है. बड़ी एवं छोटी वाहनों को शहर तथा परीक्षा केंद्र से दूर रखने का निर्देश भी जारी करने की योजना बन रही है.

ऐसे में अब देखने वाली बात होगी कि यातायात को सुदृढ़ करने में प्रशासन कितना सफल हो पाता है.

File Photo

0Shares
Prev 1 of 243 Next
Prev 1 of 243 Next

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें