E-cart Flipkart डिलेवरी पॉइंट मैनेजर निकला एकमा लूटकांड का मास्टरमाइंड, गबन के उद्देश्य से 11 लाख रुपये बढ़ाकर लिखवाई थी FIR

E-cart Flipkart डिलेवरी पॉइंट मैनेजर निकला एकमा लूटकांड का मास्टरमाइंड, गबन के उद्देश्य से 11 लाख रुपये बढ़ाकर लिखवाई थी FIR

Chhapra: सारण पुलिस ने एकमा के हंसराजपुर स्थित ईकार्ट फ्लिपकार्ट डिलेवरी पॉइंट से हुई लूट की घटना का उद्भेदन कर दिया है. पुलिस ने लूटी गई रकम में से 4 लाख 51 हजार रुपये के साथ 5 अपराधियों को गिरफ्तार करते हुए लूट की वारदात में प्रयुक्त मोटरसाइकिल, पैंट, शर्ट, 1 बाइक, हेलमेट एवं 2 मोबाइल को भी बरामद किया है.

Prev 1 of 1 Next
Prev 1 of 1 Next

सारण पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार ने इस पूरे मामले का उद्भेदन करते हुए बताया कि एकमा थाना क्षेत्र के हंसराजपुर स्थित ईकार्ट फ्लिपकार्ट डिलीवरी प्वाइंट में विगत 3 मई को अपराधियों द्वारा लूट की घटना को अंजाम दिया गया था. घटना को लेकर एकमा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराते हुए इस लूट कांड में 17 लाख 56 हजार 299 रुपये लूट की एफ आई आर दर्ज कराई गई थी. दर्ज प्राथमिकी पर कार्रवाई करते हुए सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन कर इस मामले में जांच शुरू की गई. प्रथम दृष्टया ईकार्ट फ्लिपकार्ट डिलीवरी प्वाइंट के कार्यालय में लगे सीसीटीवी के फुटेज को बारीकी से जांच की गई. जिसके आधार पर अभिषेक कुमार नामक एक अपराधी को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया. पुलिस की गहन जांच छानबीन के बाद सिवान जिले के पचरुखी के गम्हरिया गांव निवासी अभिषेक कुमार से पूछताछ की गई. जिसमें अभिषेक ने इस लूट कांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए लूट की घटना का उद्भेदन किया.

दिघवारा: उत्कर्ष फाइनेन्स लूटकांड का उद्भेदन, बैंक चपरासी ने किया था लाइनर का काम

अभिषेक ने बताया कि घटना के समय वह खुद मौजूद था. साथ ही उसके साथ डिलीवरी प्वाइंट के मैनेजर सूजन कुमार, दिघवारा निवासी कृष्णा सिंह एवं एक स्थानीय लड़के द्वारा कार्यालय से पैसे की निकासी की गई. जिसके बाद एकमा थाना क्षेत्र के मुइलीगाछी में सभी ने इकट्ठा होकर पैसों का बंटवारा किया. अभिषेक ने बताया की उसे 40000 मिले थे. पुलिस ने अभिषेक के 40000 रुपये की बरामदगी की साथ ही उसके पास से लूट कांड में संलिप्त पैंट, शर्ट को भी बरामद किया गया. अभिषेक से मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने एकमा चट्टी निवासी सूरज कुमार, दिघवारा चकनूर निवासी कृष्णा सिंह एवं दिघवारा के मीरपुर मूआल निवासी उमेश महतो को गिरफ्तार किया. साथ में पुलिस ने सूरज कुमार के पास से 3 लाख 60 हजार रुपये जिसमें मैनेजर सूजन कुमार की भी हिस्सेदारी थी, वही कृष्णा सिंह के पास से 11000 एवं उमेश महतो के पास से 40 हजार रुपये लूट की रकम को बरामद किया.

पुलिस अधीक्षक श्री कुमार ने बताया कि इस पूरे लूटकांड का मास्टरमाइंड डिलीवरी प्वाइंट का मैनेजर सूजन कुमार एवं कर्मी सूरज कुमार है. सुनियोजित तरीके से इस लूट कांड की घटना को अंजाम दिया गया और वास्तविक लूट की रकम से 11 लाख रुपए अधिक लूट की रकम दिखाकर एफ आई आर दर्ज कराई गई. जिससे कि राशि का गबन किया जा सके.

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस लूट कांड में शामिल उमेश महतो एक कुख्यात अपराधी है जो कई लूट, हत्या सहित अन्य अपराधिक घटनाओं को अंजाम दे चुका है. वहीं अन्य गिरफ्तार अपराधियों की जांच चल रही है.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें