Saran: 15 प्रखंडों में कोरोना का संक्रमण, सबसे ज्यादा छपरा शहर एवं सोनपुर में है संक्रमित मरीज

Saran: 15 प्रखंडों में कोरोना का संक्रमण, सबसे ज्यादा छपरा शहर एवं सोनपुर में है संक्रमित मरीज

Chhapra: जिले में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है होली के बाद जिले में इसकी संख्या प्रतिदिन बढ़ रही है. कोरोना संक्रमण सारण जिले के 15 प्रखंडों में अपना पांव पसार चुका है. जिसमें सबसे ज्यादा छपरा शहर एवं ग्रामीण तथा सोनपुर में मरीजों की संख्या शामिल है. शेष अन्य प्रखंडों में भी धीरे-धीरे इससे संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही है. जिसको लेकर सभी को सतर्क रहने की जरूरत है.

जिलाधिकारी नीलेश रामचंद्र देवड़े ने मंगलवार को समाहरणालय सभागार में आयोजित प्रेस वार्ता के माध्यम से कोरोना संक्रमण को लेकर बताया कि जिले में अभी 83 एक्टिव केस हैं, जिसमें 80 संक्रमित होम क्वॉरेंटाइन में है, वही दो संक्रमित मरीजों को पटना भेजा गया है. जिले में 26 माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं. जहां से लगभग 700 से अधिक सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं. इन माइक्रो कंटेनमेंट जोन में 42 संक्रमित मरीज है. मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा छपरा शहर एवं सदर के साथ सोनपुर का इलाके में है.

जिलाधिकारी ने बताया कि कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए सभी अनुमंडल पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचल पदाधिकारी से बैठक के माध्यम से अपने-अपने क्षेत्रों में प्रचार-प्रसार जागरूकता मास्क की अनिवार्यता एवं कोविड-19 वैक्सिनेशन को सक्रियता से लागू करने के साथ साथ कोविड-19 के लक्षण पाए जाने वाले मरीजों की रैपिड टेस्ट करवाने का निर्देश दिया गया.

जिलाधिकारी ने बताया कि कोविड-19 को लेकर बनाए गए कंटेनमेंट जोन में से किसी के भी आने एवं जाने की मनाही है. उन्होंने सभी पदाधिकारियों से कंटेनमेंट जोन के दिशा निर्देशों को सख्ती से लागू करने का निर्देश दिया है. जिलाधिकारी ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि कंटेनमेंट जोन से बाहर आने जाने वाले लोगों पर निगरानी रखी जाए. बाहर आने जाने वालों को चिन्हित कर कोरोना से ठीक होने के बाद उन पर विधि सम्मत कार्रवाई कर उन्हें जेल भेजा जाए.

जिलाधिकारी ने कहा कि सबसे ज्यादा कोविड-19 से बचाव के लिए एहतियात जरूरी है. सारण में एक संक्रमित मरीज से 9 लोग संक्रमित हुए हैं. इस प्रभाव को देखते हुए सब की सुरक्षा जरूरी है.

जिलाधिकारी ने सारण में वैक्सीनेशन को लेकर सभी कर्मियों का आभार जताया है. उन्होंने कहा कि प्रतिदिन 20 प्रखंड के स्वास्थ्य केंद्र एवं उप केंद्रों पर कोविड-19 वैक्सिनेशन की प्रक्रिया चल रही है. जनता जागरूक है जिसका पता इसी से चलता है कि रविवार को वैक्सीन नहीं होने के कारण बंद वैक्सीनेशन सेंटर के लिए कई जगहों से सीधे फोन आया.

उन्होंने सभी व्यवसायिक प्रतिष्ठानों के संचालकों से प्रतिष्ठान में आने जाने वाले को मास्क लगाने का निर्देश दिया है. कोविड-19 के नियमों के पालन में लापरवाही बरतने वाले दुकान और प्रतिष्ठान को सील करने का भी निर्देश दिया है.

जिलाधिकारी ने बताया कि होली के बाद से कोविड-19 मरीजों की संख्या बढ़ रही है ऐसे में जनता को जागरूक होकर इस संक्रमण से निजात पाना होगा. उन्होंने सभी से कोविड-19 का पालन करने मास्क लगाने, सामाजिक दूरी अपनाने तथा 45 वर्ष की उम्र के ऊपर के सभी लोगों को कोविड-19 वैक्सीन लेने का आग्रह किया है, जिससे कि सारण में इसका प्रभाव समाप्त हो सकें.

प्रेसवार्ता में पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार भी मौजूद थे.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें