दलितों में शिक्षा के विकास से ही समाज का उत्थान संभव: रामदयाल शर्मा

दलितों में शिक्षा के विकास से ही समाज का उत्थान संभव: रामदयाल शर्मा

छपरा: समाज के दलित और पिछड़े  वर्ग में शिक्षा के समुचित प्रचार-प्रसार से ही भारतीय समाज का सर्वांगीण विकास और उत्थान संभव है.  पूर्ण साक्षर भारत बनाने का संकल्प आज हर भारतीय को लेना चाहिए. अनपढ़ लोगों को साक्षर बनाने की दिशा में हम सब को मिलकर सार्थक प्रयास करना होगा.

उक्त बातें सरस्वती शिशु विद्या मंदिर के प्राचार्य रामदयाल शर्मा ने विद्यालय के छात्र-छात्राओं द्वारा शहर के दलित बस्ती में आयोजित साक्षरता अभियान के समापन सत्र के दौरान कही.

पिछले एक सप्ताह से विद्या मंदिर के भैया-बहन विद्यालय के नेतृत्व में शहर के तमाम दलित बस्ती के लोगों के बीच साक्षरता अभियान चला रहे हैं. इस दौरान वैसे लोग जो गरीबी के कारण पढ़ना-लिखना नहीं सीख पाये उन्हें विद्यालय के बच्चों द्वारा अक्षर का बोध कराते हुए साक्षर बनाया गया.

इस साक्षरता अभियान में विद्यामंदिर के कई छात्र-छात्राओं ने काफी उत्साह के साथ भाग लिया. विद्यालय के छात्र सिद्धार्थ ने बताया कि समाज में सबको पढ़ने का हक़ है. स्वयं की शिक्षा के साथ गरीबों की बस्ती में आकर शिक्षा का प्रसार करने में आनंद की अनुभूति होती है.

समापन सत्र में विद्या मंदिर की टीम राजेन्द्र कॉलेज के पास बने दलित बस्ती पंहुची जहां कई निरक्षर पुरुष एवं महिलाओं को अक्षर बोध कराया गया. दलित बस्ती में रहने वाली 18 वर्षीया आरती जो अबतक अंगूठा लगाया करती थी उसने आज अपना नाम लिखना सीख लिया जिसके लिए उसने विद्यालय परिवार का ह्रदय से आभार व्यक्त किया.

इस साक्षरता अभियान में विद्यालय समिति के सुरेश सिंह, विद्यालय के छात्र-छात्राओं समेत कई आचार्यगण उपस्थित रहे.

0Shares
Prev 1 of 186 Next
Prev 1 of 186 Next

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें