सर्वोदय मेला का हुआ समापन, महाराजगंज सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल हुए शामिल

सर्वोदय मेला का हुआ समापन, महाराजगंज सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल हुए शामिल

अमनौर: दशहरा का पर्व दस प्रकार के पाप, काम, क्रोध, लोभ, मोह, अहंकार आदि के परित्याग की सद्प्रेरणा करता है. इसे असत्य पर सत्य के रूप में मनाते है. उक्त बातें बुधवार को सुप्रसिद्ध आठ दिवसीय लगने वाली सर्वोदय मेला के समापन समारोह कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महाराजगंज सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल ने कही.

उन्होंने बहुरिया के कृति को बखान करते हुए कहा कि यह धरती बिरँगना रामस्वरूप देवी बहुरिया की है, जिनके साथ इतिहास भी अन्याय किया. अन्यथा रानी लक्ष्मी बाई से इनकी कृति कम नही है. उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य है कि आज के युवा पीढ़ी अपना इतिहास नही जानते, जो समाज के नई पीढ़ी के साथ अन्याय है. यही अन्याय बहुरिया के साथ हुई. जिससे इतिहास के पन्नो से दूर रखा गया.

उन्होंने केंद्र सरकार के कार्यो पर प्रकाश डालते हुए कहा कि अब सबका साथ सबका विकास होगा, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, के साथ देश के मजबूती को लेकर हमारा केंद्र सरकार संकल्पित है. कार्यक्रम के प्रारंभ में मेला संरक्षक अजय प्रताप सिंह शारद, सचिव सुरेंद्र सिंह ने मुख्य अतिथि के स्वागत में प्रशस्ति पत्र पढ़कर शाल  व् माला पहनाकर उनका स्वागत किया. स्वागत गान प्रमिला पाठक नेकी.

कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व विधायक विद्याभूषण सिंह व् मंच संचालक पूर्व प्राचार्य महामाया प्रसाद विनोद ने किया. संबोधन करने वालो में मुख्य रूप से शैलेंद्र प्रताप सिंह, रविरंजन सिंह, अधिवक्ता विजय सिंह, रामायण सिंह, ललन प्रसाद सिंह, तेजनारायण सिंह, राजेश सिंह कश्यप, चन्देश्वर सिंह, रमेश कुमार, मुख्य रूप से शामिल थे.

0Shares
Prev 1 of 225 Next
Prev 1 of 225 Next

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें