सारण में ओवरलोडेड ट्रकों के परिचालन से NH समेत कई सड़कों की हुई दुर्दशा, ट्रकों पर कार्रवाई में विफल प्रशासन

सारण में ओवरलोडेड ट्रकों के परिचालन से NH समेत कई सड़कों की हुई दुर्दशा, ट्रकों पर कार्रवाई में विफल प्रशासन

Chhapra: सारण की सड़कों पर ओवरलोड ट्रकों के परिचालन ने जिले की लगभग मुख्य सड़कें की हालत बिगाड़ कर रख दी है. जिले से होकर गुजरने वाली तमाम मुख्य सड़कों पर धड़ल्ले से ओवरलोडेड ट्रकों का परिचालन हो रहा है, जिसके बाद इन सड़कों की स्थिति बेहद खराब हो गई है. NH-19 से लेकर ज़िले से होकर गुजरने वाले अन्य स्टेट हाईवे भी ओवरलोडेड ट्रकों के परिचालन के कारण जर्जर हो गए है. इन सड़को की दुर्दशा ज्यादातर ओवरलोडेड बालू लदे ट्रकों के परिचालन से हुआ है. जिला प्रशासन भी जिले में ओवरलोडेड ट्रेकों के परिचालन पर रोक लगाने में नाकामयाब रहा है. हर रोज हजारों की संख्या में ओवरलोडेड ट्रक सारण की सड़कों पर धड़ल्ले से चल रहे हैं और दिन-ब-दिन सड़कों की हालत बदत्तर होती जा रही है. जिसका खमियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ रहा है.

NH-19 पर हुए बड़े बड़े गड्ढे

ओवर लोडेड बालू लोडेड ट्रकों पर कार्रवाई नहीं होने के कारण NH-19 की हालत सबसे बदतर हो गई है. आलम यह है कि बड़े बड़े गड्ढे हो जाने से छोटी गाड़ियों के लिए चलने लायक नहीं बचा है. हर रोज इन गड्ढो में ट्रक फंस जा रहे जिससे कई किलोमीटर तक लम्बा जाम लगा रह रहा है. यही नहीं ब्रह्मपुर से लेकर विष्णुपुरा तक सड़क पर बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं, जिसमें हर रोज ट्रकों के फंसने से लंबा जाम लग जा रहा है. इस वजह से आम आदमी को भी परेशानी हो रही है. यहां समस्या सालों से है लेकिन अब तक प्रशासन इसे दुरुस्त करने में सफल नही रहा. ओवरलोड ट्रकों के चलने से सड़कें बदतर हो गई आम लोगों के लिए इन सड़कों पर चलना भी मुश्किल हो गया है.

एकमा-मांझी, भेल्दी-दिघवारा समेत कई सड़क हुए जर्जर

यही हाल छपरा- बायपास, एकमा मांझी रोड, दिघवारा-भेल्दी sh-90 आदि सड़कों का है इन सड़कों पर बड़े बड़े गड्ढे हो गए हैं. हालांकि प्रशासन द्वारा बार-बार गड्ढों की भराई कराई जा रही है लेकिन गड्ढे भरते ही ओवरलोड ट्रकों का परिचालन होने से है स्थिति और खराब हो जा रही है. छपरा सिवान रोड भी कई जगहों पर गड्ढे होने लगे हैं यदि ओवरलोड ट्रकों का परिचालन प्रशासन ने नहीं रोका तो सारण जिले में सड़कों पर चलना मुश्किल हो जाएगा. पूरे जिले में ओवरलोड ट्रकों ने आतंक मचा रखा है जिससे कई जगह जाम की स्थिति भी उत्पन्न हो जा रही है.

गड्ढो की भराई का लगातार हो रहा काम

मरम्मती कार्य में भी बाधा बने ओवरलोड ट्रक

भारी वाहनों के चलने से सड़कों की भरायी कार्य में बहुत सारी बाधा आ रही है. सड़कों पर जाम लगा रहा है जिससे सड़कों को भरने का काम भी संवेदक के लिए बहुत मुश्किल हो रही है. ठेकेदार ने कई बार सड़को के गड्ढो को भरने का काम किया लेकिन यह ट्रकों के कारण फिर से बड़े बड़े गड्ढे बन गए. ओवरलोड ट्रकों के परिचालन रोकने व कार्रवाई को लेकर प्रशासन सुस्त नजर आ रहा है

ट्रकों के कारण हर रोज दिन भर लग रहा भयंकर जाम

स्थिति यह है कि डोरीगंज से लेकर बरहमपुर तक हजारों ओवरलोडेड ट्रक नजर आ रहे हैं. जिस पर किसी भी प्रकार से कार्रवाई नहीं हो रही है, जिलाधिकारी द्वारा हर महीने सड़कों की भरने के लिए निर्देश दिया जा रहा है. इन गड्ढों को भरने के लिए प्रशासन द्वारा भारी भरकम रकम खर्च किया जा रहा है, भारी भरकम रकम खर्च किए जाने के बाद गड्ढे भरे तो जा रहे हैं, लेकिन ओवरलोड ट्रकों के परिचालन के कारण सड़कों पर फिर बड़े-बड़े गड्ढे बन जा रहे हैं. जिससे जनता के पैसे की खूब बर्बादी हो रही है.

गड्ढो की भरायी के नाम पर पैसों की बर्बादी

फिलहाल nh19 पर कई बार गड्ढों को भरा जा चुका है. लेकिन हर बार ट्रकों के कारण फिर से गड्ढे हो जा रहे हैं. इसके बावजूद फिर से NH-19 और छपरा बाईपास समेत कई जगहों पर गड्ढों को भरने का कार्य शुरू हो गया है. ओवरलोड ट्रकों के बड़े-बड़े गड्ढों में फंस जाने से हर रोज nh-19 के साथ छपरा बाईपास शहर से निकलने के लिए भी लोग जूझ रहे. आलम यह हो गया है कि ट्रकों की लाइन लगने से लोगों को पटना जाने में काफी समस्या हो रही है.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें