लोकसभा निर्वाचन की तैयारियों को दें अंतिम रूप: डीएम

लोकसभा निर्वाचन की तैयारियों को दें अंतिम रूप: डीएम

समीक्षा बैठक में डीएम-एसपी ने दिए कई निदेश

Chhapra: आसन्न लोकसभा आम निर्वाचन की सभी तैयारियों को अब अंतिम रूप देना शुरू करें। बूथ पर सुविधाओं की आपूर्ति से लेकर मतगणना कराने तक के सभी कार्यों की फूलप्रूफ तैयारी होनी चाहिए। उक्त बातें जिला निर्वाचन पदाधिकारी -सह- जिला पदाधिकारी अमन समीर ने रविवार को समाहरणालय सभागार में सभी एआरओ, बीडीओ, सीओ और थानाध्यक्षों की संयुक्त समीक्षा बैठक में कहीं।

उन्होंने कहा कि निष्पक्ष, भयमुक्त और पारदर्शी चुनाव कराना प्रशासन की प्राथमिकता है। इस कार्य में किसी भी स्तर की कोताही अक्षम्य है। जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने अब तक की गयी तैयारियों की बिन्दुवार समीक्षा की।

भेद्यता मानचित्रण को निष्पक्ष चुनाव का आधार बताते हुए उन्होंने मतदानकेंद्र वार और सेक्टर वार रिपोर्ट प्राप्ति की जानकारी लेते हुए एआरओ, बीडीओ और एसएचओ स्तर पर बैठक कर उसकी रैंकिंग करने तथा मंगलवार तक एसडीएम और एसडीपीओ स्तरीय रिपोर्ट जिला को उपलब्ध कराने का निदेश दिया।

मतदान केंद्रों की निगेटिव एएमएफ रिपोर्ट का जायजा लेते हुए उन्होंने सभी बीडीओ को संबंधित विभाग से समन्वय स्थापित कर आवश्यक कमियों को फौरन दूर करने का निदेश दिया। उन्होंने कहा कि जो कार्य उनके स्तर पर नहीं हो पा रहे हैं, उसका प्रतिवेदन उपलब्ध कराएं। मेरे स्तर पर उनकी आपूर्ति करायी जाएगी। उन्होंने स्पष्ट रुप से कहा कि मतदान के दिन पहुंच पथ या अन्य आवश्यक सुविधा संबंधी शिकायत नहीं आनी चाहिए। उन्होंने सभी प्रखंड में कम से कम 20 लोकेशन चिन्हित करने को कहा, जिसे आदर्श रूप में प्रदर्शित किया जा सके।

उन्होंने सभी बीडीओ, सीओ और थानाध्यक्ष को स्वयं स्थल भ्रमण कर प्रत्येक प्रखंड में सीएपीएफ के चिन्हित ठहराव स्थल पर शौचालय, जलापूर्ति, चाहरदीवारी आदि की उपलब्धता सुनिश्चित करने, बूथ का अक्षांश-देशांतर रिपोर्ट को पूरा करने, रूट चार्ट को अंतिम रूप देने, महत्वपूर्ण व्यक्तियों के नाम बूथ लिस्ट में सत्यापित करने आदि का निदेश दिया।

डीएम श्री समीर ने कहा कि मतदान प्रतिशत को बढ़ाने के प्रति प्रशासन कृतसंकल्पित है। इसके लिए कम मतदान वाले चिन्हित बूथों पर जागरुकता और गतिविधि की कार्रवाई करते हुए प्रतिवेदन का डाक्यूमेंटेशन करने का निदेश दिया। उन्होंने सभी एआरओ को अपने स्तर पर चिन्हित डिस्पैच सेंटर पर स्ट्रांगरूम की तैयारी, प्रथम रैंडमाइजेशन के बाद इवीएम के स्थानांतरण और भंडारण की पूर्व से व्यवस्था करने, सेकेंड रैंडमाइजेशन के बाद कमिशनिंग की तैयारी करने, पार्टी मिलान और डिस्पैच का स्थल चिन्हित कर आवश्यक व्यवस्था करने, पोल्ड इवीएम का बाजार समिति में रिसीविंग की तैयारी, मतगणना और उसके पश्चात इवीएम की सीलिंग और भंडारण संबंधित आदेश पूर्व से तैयार करने और लगाए जाने वाले कर्मियों को पर्याप्त प्रशिक्षण की व्यवस्था करने, समय-समय पर विभिन्न ।रिपोर्ट को अपलोड करने का निदेश दिया।

इस अवसर पर एसपी डॉ० गौरव मंगला ने विधि व्यवस्था संबंधी विभिन्न निदेश देते हुए सख्ती से निरोधात्मक कार्रवाई करने, आर्मस् सत्यापन में तेजी लाने, पेंडिंग केस के निपटारे आदि की बात कही। उन्होंने पुलिस अधिकारियों को बीडीओ, सीओ और एआरओ के साथ समन्वय करने का निदेश दिया।

बैठक में नगर आयुक्त सुमित कुमार, सहायक समाहर्त्ता सुश्री श्रेया श्री, एडीएम शंभु शरण पांडेय, एडीएम पीजीआरओ संजय कुमार, उप निर्वाचन पदाधिकारी जावेद एकबाल, निदेशक डीआरडीए श्री कैयूम अंसारी, एसडीएम श्री संजय कुमार राय, डीटीओ शंकर शरण ओमी समेत सभी बीडीओ, सीओ, एसएचओ आदि उपस्थित थे।

0Shares
A valid URL was not provided.