बिहार के इतिहास में शराबबंदी कानून स्वर्णाक्षरों में लिखा जायेगा: CM नीतीश

बिहार के इतिहास में शराबबंदी कानून स्वर्णाक्षरों में लिखा जायेगा: CM नीतीश

छपरा:  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक दिवसीय दौरे पर छपरा पहुंचे. मुख्यमंत्री ने शहर के राजेन्द्र स्टेडियम में जीविका द्वारा आयोजित कार्यक्रम का उद्घाटन दीप प्रज्ज्वलित कर किया.  कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि मुझे छपरा आकर बहुत प्रसन्नता हो रही है.

यहाँ पढ़े मुख्यमंत्री के भाषण के प्रमुख अंश:

    • मेरे मन में वर्षों से शराब को बंद करा देने का विचार चल रहा था.
    • महिलाओं से 9 जुलाई 2015 को जो वादा किया था उसे पूरा किया.
    • पदग्रहण के 6 दिन के अंदर ही शराबबंदी लागू करने का ऐलान कर दिया.
    • ये एक सामजिक परिवर्तन का अभियान है.
    • हमने कानून लागू करने से पहले इसके एक-एक पहलुओं पर विचार किया.
    • टोला सेवकों, तालीमी मरकजों, आंगनबाड़ी सेविकाओं और साक्षारतकर्मियों ने काफी सहयोग किया.
    • 8500 से ज्यादा नुक्कड़ नाटकों का आयोजन किया गया.
    • 9 लाख जगहों पर शराबबंदी को लेकर नारे लिखे गए.
    • 1 अप्रैल के बाद शराबबंदी को लेकर अच्छा वातावरण बन गया है.
    • बिहार की महिलाओं का अभिनन्दन करता हूँ.
    • अपराध और दुर्घटनाओं में कमी आई है.
    • शराबबंदी के बाद राज्य में शांति का वातावरण है.
    • जो पीकर घर में मार-पीट करता था वो अब घर में पत्नी की सहायता करता है, शराबबंदी बड़ी उपलब्धि.
    • चंपारण सत्याग्रह के 100वे साल बिहार में पूर्ण शराबबंदी लागू कर हमने बापू के प्रति अपनी सच्ची श्रद्धा समर्पित की है.
    • सावधानी हटी दुर्घटना घटी इसलिए हमेशा सजग रहें.
    • हर स्तर पर रोज अनुश्रवण हो रहा है.
    • गुजरात जब से राज्य बना तब से वहां शराबबंदी लागू है. 
    • धनबाद से झारखण्ड में भी इस अभियान को शरू करने का संकल्प लिया गया.
    • शराबबंदी के समर्थन में मैं कहीं भी जाऊंगा.
    • महाराष्ट्र की महिलाओं ने भी शराबबंदी लागू करने पर धन्यवाद किया.
    • सभी राज्यों में शराब बंद करने की मांग उठ रही है.
    • जो जहरीला शराब बनाएगा उसे आजीवन कारावास दिया जाएगा.
    • सरकार के तरफ से कानून का सख्ती से पालन किया जाएगा.
    • शराब बेचना नैतिक कारोबार नहीं है.  

jivika
कार्यक्रम में मौजूद जीविका की महिलाएं

कला संस्कृति मंत्री शिवचंद्र राम ने कहा कि जीविका के बहनों ने शराबबंदी के लिए जो अभियान चलाया वो बिहार की तस्वीर बदल कर रख देगा. उन्होंने कहा कि आज का कार्यक्रम बहुत सुखद है, कला संस्कृति मंत्री के नाते मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करता हूँ. बाबा साहेब के सपनों को पूरा कर नीतीश कुमार ने पूरा करने का जो संकल्प लिया है वो महान है.

aa
दीप जला कार्यक्रम का उद्घाटन करते मुख्यमंत्री

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए खनन एवं भूतत्व मंत्री  मुनेश्वर चौधरी ने कहा कि जीविका की बहनों को इतनी बड़ी संख्या में मुख्यमंत्री ने इस अभियान से जुड़कर ऐतिहासिक कदम उठाया है. 

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सूबे के डीजीपी पी. के. ठाकुर ने कहा कि नयी शराब नीति में शराब पीने वालों को सजा के साथ साथ अर्थदंड का प्रावधान किया गया है. उन्होंने कहा कि आप लोगों के द्वारा लिए गए संकल्प से इस अभियान को सफलता मिलेगी. राज्य के पुलिस मुख्यालय में मध् निषेध कंट्रोल रूम की स्थापना हो चुकी है, पुलिस प्रशासन आपके हर संभव मदद को तैयार है. उन्होंने कहा कि राज्य में  हत्या, लूट, डकैती, फिरौती आदि की घटनाओं पर लगाम लगाया गया है और इसमें कमी आई है.  

मुख्यमंत्री के साथ शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी, मंत्री चन्द्रिका राय, मंत्री मुनेश्वर चौधरी, कला एवं संस्कृति मंत्री शिवचंद्र राम, प्रधान सचिव अंजनी कुमार, डीजीपी, आयुक्त,  जिलाधिकारी, एसपी समेत पूरा प्रशासनिक अमला मौजूद था. 

इस कार्यक्रम में जीविका की लगभग 10 हजार महिलाऐं उपस्थित है. महिलाओं ने  क्षेत्र में किये गए शराबबंदी के तहत उल्लेखनीय कार्यों को मुख्यमंत्री से साझा किया. गोपालगंज की जीविककर्मी वेदांती दीदी ने अपने अनुभव को मुख्यमंत्री से साझा करते हुए कहा कि “हमनी के पियक्कडन के डांटा से मार मार के ठीक कर देनी सन आ सब दूकान तोड़ देनी सन’.  

jivika 1
जीविका के बहनों द्वारा सास्कृतिक प्रस्तुति

इस अवसर पर जीविका के बहनों द्वारा सास्कृतिक प्रस्तुति दी गयी.  

वीडियो देखे 

 इससे पहले मुख्यमंत्री के छपरा पहुँचने पर रामजयपाल कॉलेज में उन्हें गार्ड ऑफ़ ऑनर दिया गया.   

0Shares
[sharethis-inline-buttons]

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें