भाजपा नेता की गोली मार हत्या, पुलिस पर लगे शिथिलता के आरोप

भाजपा नेता की गोली मार हत्या, पुलिस पर लगे शिथिलता के आरोप

 छपरा: जिले में एक बार फिर अपराधियों का तांडव खुलेआम दिख रहा हैं. एक के बाद एक अपराधी घटनाओं को अंजाम दे रहे है और पुलिस के हाथ खाली रह जा रहे है. अभी LIC के पैसे की लूट की घटना को एक दिन भी नही बीता की अपराधियों ने बीजेपी नेता की गोली मार हत्या कर अपनी सक्रियता दिखाते हुए पुलिस को चुनौती दे दी हैं. जिले में बढ़ रही आपराधिक घटनाओं पर लगाम लगाने में पुलिस विफल दिख रही है राजनेता पुलिस पर शिथिलता का आरोप लगा रहे हैं.

शुक्रवार की  देर रात जिले के रिविलगंज थाना क्षेत्र के मुकरेडा व पंचपतरा गांव के बीच बदमाशों ने भाजपा नेता की गाेली मारकर हत्या कर दी गयी . घटना 10.10 बजे रात की बताई जा रही है जब भाजपा किसान मोर्चा के नेता दिनेश शर्मा अपना दवा दुकान बंद कर बाइक से घर लौट रहे थे उसी वक़्त बदमाशों ने उन्हें  गाेली मार दी. जिससे वे वही पर गिर गये, आसपास के लाेगाें ने देखा तो उन्हें छपरा सदर अस्पताल में लाया जहाँ उनकी माैत हाे चुकी थी. सूचना मिलने पर पुलिस ने माैके पर पहुंच कर शव को कब्जे में ले कर पाेस्टमार्टम के लिए भेज दिया. मृतक दिनेश शर्मा रिविलगंज के शेखपुरा के रहने वाले थे वह छपरा स्थित दवा दुकान बंद कर लौट रहे थे.

रेकी के बाद घटना को दिया गया अंजाम:  घटना को अंजाम देने के लिए बदमाशों ने रेकी की थी जिसके बाद एक तय स्थान पर बदमाश सुनसान जगह पर पहले से ही घात लगाकर बैठा थे. जैसे ही दिनेश शर्मा बाइक से लौट रहे थे, अपराधियों  गोली चलाई ओर चलते बने. हालंकि इस  वारदात को  किसी ने देखी नही है सड़क के किनारें गिरे पड़े देखे जाने के बाद ही लोगो को इस बात का पता लगा.

हत्या का क्या है कारण चुनावी रंजिश या आपसी मतभेद:  पुलिस हत्या की सही वजह पता लगाने में जुटी है.हत्या का कारण चुनावी रंजिश है या फिर कुछ और यह जांच के बाद ही पता लगेगा. लोगों से मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि हत्या का कारण चुनावी रंजिश भी हो सकता है. रिविलगंज नगर पंचायत में चुनाव होने है. बतौर बीजेपी नेता के तौर पर अच्छी पैठ भी क्षेत्र में है वार्ड आयुक्त के भावी प्रत्याशी भी बताए जा रहे थे.

क्या कहते है सांसद:

हत्या की खबर के बाद महाराजगंज सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल सदर अस्पताल पहुंचे जहां उन्होंने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि एक बार फिर जंगल राज की शुरुआत हो चुकी है. जिले में आपराधिक घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि हुई है लेकिन पुलिस हाथ पर हाथ धरी बैठी है. उन्होंने कहा कि जिले में एक के बाद एक बीजेपी नेताओं को चुन चुन कर हत्या की जा रही है लेकिन गुनाहगारों को पुलिस पकड़ने में नाकाम है.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें