बैंकों के निजीकरण का महिला कर्मचारियों ने जताया विरोध

बैंकों के निजीकरण का महिला कर्मचारियों ने जताया विरोध

Chhapra: यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस की सारण इकाई के बैनर तले महिला बैंक कर्मियों के द्वारा महिला दिवस पर निजीकरण का विरोध किया गया.

बैंक कर्मियों के द्वारा निजीकरण के विरोध में आगामी 15-16 मार्च को आहूत राष्ट्रव्यापी हड़ताल के मद्देनजर प्रदर्शन किया गया. इस दौरान बैंक के महिला अधिकारी और कर्मचारियों ने निजीकरण का विरोध जताया.

 

बिहार प्रोविंशियल बनाम इम्प्लाइज एसोसिएशन के सहायक सचिव मनोज कुमार सिंह ने बताया कि बैंकों के निजीकरण को नही करने, 2 लाख से ज्यादा खाली पदों पर बहाली करने और जान बूझकर कर्ज नही चुकाने वालों की गिरफ्तारी करने, किसानों को कम व्याज पर ज्यादा ऋण देने आदि की मांग सरकार के समक्ष रखी गयी है.

इस दौरान प्रदर्शन का नेतृत्व दीपिका, खुशबू, स्वेता, मलिका, सारिका कुमारी, कुमारी शर्मिला और गरिमा श्रीवास्तव ने किया. इस दौरान ऑल इंडिया बैंक एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष जयशंकर प्रसाद, मो. अब्बास, कुमार सोनू आदि ने संबोधित किया.

Prev 1 of 228 Next
Prev 1 of 228 Next

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें