इतिहास के पन्नों में 03 अप्रैल

इतिहास के पन्नों में 03 अप्रैल

नई दिल्ली: कंप्यूटर और मोबाइल फोन ने पूरी दुनिया की शक्ल बदलकर रख दी। संयोग है कि इन दोनों के आविष्कार का 03 अप्रैल से गहरा ताल्लुक है। हालांकि दोनों के बीच कुछ वर्षों का अंतर जरूर था। भारत के महान राजा और पश्चिम भारत में मराठा साम्राज्य की नींव रखने वाले शिवाजी महाराज की 03 अप्रैल को मृत्यु हुई थी। जबकि भारतीय सेना के सबसे चर्चित सैन्य अधिकारी माणेकशॉ का जन्म आज के ही दिन हुआ था।
दुनिया को बदल देने वाले आविष्कारः 1973 में 03 अप्रैल को मोबाइल फोन की पहली कॉल की गयी थी। मार्टिन कूपर ने मोबाइल फोन से जोएल एस एंजेल को पहला कॉल किया था। कूपर को मौजूदा मोबाइल फोन का जनक माना जाता है। हालांकि अमेरिका में कार फोन का इस्तेमाल 1930 से ही हो रहा था लेकिन हैंडहेल्ड फोन का इस्तेमाल पहली बार 1973 में किया गया।
आठ वर्षों बाद 1981 में इसी तारीख को सेन फ्रांसिस्को ओसबोर्न कंप्यूटर कॉरपोरेशन के एडम ओसबोर्न द्वारा तैयार पहला पोर्टेबल कंप्यूटर का नमूना तैयार किया गया।
माणेकशॉ का जन्मः भारतीय सेना के सबसे चर्चित सैन्य अधिकारी एसएचएफजे माणेकशॉ का 03 अप्रैल 1914 को जन्म हुआ। वे भारतीय सेना के पहले अधिकारी थे, जिन्हें फील्ड मार्शल का पद दिया गया। ख़ास बात यह है कि चार दशक के अपने कार्यकाल में उन्होंने पांच लड़ाइयां लड़ीं। मानेकशॉ ने दूसरे विश्वयुद्ध में ब्रिटिश इंडियन आर्मी में अपनी सेवाएं दीं और 1971 में पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध में भारतीय जीत को सुनिश्चित किया।
अन्य अहम घटनाएंः
1680- महान राजा और अचूक रणनीतिककार शिवाजी महाराज की रायगढ़ में मृत्यु हो गयी।
1903- स्वतंत्रता सेनानी व समाज सुधारक कमला देवी चट्टोपाध्याय का जन्म।
1929- हिन्दी के मशहूर लेखक निर्मल वर्मा का जन्म।
1984- सोवियत यान में अंतरिक्ष यात्रा के लिए भारतीय स्क्वाड्रन लीडर राकेश शर्मा को चुना गया। राकेश शर्मा यह उपलब्धि हासिल करने वाले पहले भारतीय बने।
2010- एप्पल ने अपना पहला आईपैड बाजार में उतारा।
हिन्दुस्थान समाचार

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें