भारत-ईरान-अफगानिस्तान में अहम समझौता, चाबहार पोर्ट विकसित करेगा भारत

तेहरान: भारत, ईरान और अफगानिस्तान के बीच सोमवार को चाबहार पोर्ट को लेकर ऐतिहासिक करार हुआ.

दक्षिणी ईरान में स्थित यह पोर्ट रणनीतिक नजरिये से बेहद अहम है. इस करार के बाद भारत को पाकिस्तान से रास्ता मांगे बगैर अफगानिस्तान और यूरोप पहुंचने में आसानी होगी. भारत द्वारा ईरान से किये गए इस करार को चीन के सहयोग से पाकिस्तान के बलूचिस्तान में विकसित हो रहे ग्वादर पोर्ट का जबाब माना जा रहा है.

करार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दो दिन की ईरान यात्रा के दौरान हुआ. इस करार के तहत भारत चाबहार पोर्ट के लिये 50 हज़ार करोड़ अमेरिकी डॉलर का निवेश करेगा. भारत और ईरान ने कुल 12 समझौतों पर हस्ताक्षर किये है. दोनों देशों ने आतंकवाद से मिलकर लड़ने का संकल्प लिया है.

गौरतलब है कि पाकिस्तान के विरोध के कारण भारत को सड़क मार्ग से अफगानिस्तान और मध्य एशिया से जुड़ने में असुविधा होती है.

0Shares
A valid URL was not provided.