हमारी डाइवर्सिटी, डेमोक्रेसी और डेवलपमेंट पूरी दुनिया के सामने एक मिसाल: राष्ट्रपति

हमारी डाइवर्सिटी, डेमोक्रेसी और डेवलपमेंट पूरी दुनिया के सामने एक मिसाल: राष्ट्रपति

New Delhi: 70वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने राष्ट्र के नाम संदेश दिया. राष्ट्रपति ने कहा कि गणतंत्र दिवस सभी देशवासियें के लिए स्वतंत्रता, समानता और भाईचारे के आदर्शों के प्रति अपनी आस्था को दोहराने का अवसर है. इन सबसे बढ़कर हमारा गणतंत्र, हम सबके भारतीय होने के गौरव को महसूस करने का भी अवसर है. इसे मजबूत बनाने के लिए सबको मतदान करना जरूरी है. उन्‍होंने कहा कि दुनिया के सामने मिसाल है हमारी डाइवर्सिटी, डेमोक्रेसी और डेवलपमेंट. इसको मजबूत बनाना हम सभी की जिम्‍मेदारी है.

राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि भारत की बहुलता, हमारी सबसे बड़ी ताकत है. हमारी डाइवर्सिटी, डेमोक्रेसी और डेवलपमेंट, पूरी दुनिया के सामने एक मिसाल है. देश के संसाधनों पर हमसभी का बराबर का हक है, चाहे हम किसी भी समूह के हों, किसी भी समुदाय के हो, या किसी भी क्षेत्र के हों. हमारी बेटियां, शिक्षा, कला, चिकित्सा और खेल-कूद के अलावा हमारी तीनों सेनाओं और रक्षा विज्ञान जैसे क्षेत्रों में भी अपनी विशेष पहचान बना रही हैं. हायर एजुकेशन व संस्थानों में पदक पाने वाले विद्यार्थियों में आमतौर पर बेटियों की संख्या बेटों से अधिक होती है.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि इस चुनाव के दौरान हम सब अपने मताधिकार का प्रयोग, अपनी लोकतान्त्रिक मान्यताओं और मूल्यों के प्रति पूरी निष्ठा के साथ करेंगे. यह चुनाव इस मायने में विशेष होगा कि 21वीं सदी में जन्म लेने वाले मतदाता पहली बार मतदान करेंगे और नई लोकसभा के गठन में अपना योगदान देंगे. यह चुनाव, सभी देशवासियों के लिए लोकतन्त्र में अपनी सक्रिय भागीदारी निभाने का एक महत्वपूर्ण अवसर है. हमारे लोकतंत्र की सफलता के लिए मतदान करना हमारा एक पुनीत कर्तव्य बन जाता है. मेरा आप सभी से अनुरोध है कि इस कर्तव्य का अवश्य पालन करें.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.