JNU में रावण की जगह फूंका गया पीएम मोदी का पुतला, वीडियो FB पर किया पोस्ट

नई दिल्ली: जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में कांग्रेस समर्थित छात्र संगठन एनएसयूआई के कुछ छात्रों ने मंगलवार की रात दशहरा पर रावण की जगह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंका. इस पुतले में अमित शाह और योग गुरु बाबा रामदेव, नाथूराम गोडसे, योगी आदित्यनाथ समेत उनके तमाम सहयोगियों का पुतला फूंका गया है. इतना ही नहीं इस घटना का वीडियो बना इसे फेसबुक पर भी पोस्ट कर दिया गया है.

भाजपा नेता शाहनवाज हुसैन ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ओछी और नीची हरकत पर उतर आई है, देश के लोगों के चुने हुए नेता को रावण के रूप में जलाना सही नहीं. यह कांग्रेस की घटिया सोंच को दर्शाती है. भाजपा इसकी निंदा करती है. 

उधर एनएसयूआई की जेएनयू यूनिट द्वारा दशहरा पर रावण की जगह प्रधानमंत्री का पुतला जलाने को लेकर एनएसयूआई ने कड़ा रुख इख्तियार किया है. छात्र संगठन ने जेएनयू विंग को कारण बताओ नोटिस जारी करने का फैसला लिया है. जेएनयू में पीएम का पुतला जलाए जाने को एनएसयूआई ने छात्र संगठन द्वारा नैतिक संहिता का उल्लंघन बताया है. एनएसयूआई के अध्यक्ष का कहना है कि हम किसी के भी पुतले को जलाए जाने के खिलाफ हैं. हालांकि छात्रों की ये हरकत देश के युवाओं के बीच अशांति को दर्शाती है.

बता दें कि रावण के मुख्य सर के तौर पर पीएम मोदी का और अन्य सिरों पर बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह, नाथूराम गोडसे, योग गुरु बाबा रामदेव, साध्‍वी प्रज्ञा, आसाराम बापू और जेएनयू के वीसी एम जगदीश समेत अन्‍य नेताओं के चेहरे लगाए गए थे. जेएनयू की एनएसयूआई के अध्यक्ष सन्‍नी धीमान ने इसे अपने फेसबुक पर जारी भी किया है.

{तस्वीर @wakkersunny के फेसबुक वाल से}

0Shares
A valid URL was not provided.