अब बैंकों से नोट बदलने एवं कैश लेने पर लगायी जाएगी स्याही

नई दिल्‍ली: देश भर में लोगों तक नकदी की आपूर्ति बढ़ाने के प्रयासों के बीच आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने मंगलवार को मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि बैंकों से नोट बदलने एवं कैश लेने पर अब स्याही लगायी जाएगी.

चुनावों के तर्ज़ पर नकदी निकासी करने वाले लोगों की उंगली पर ना मिटने वाली स्याही लगायी जाएगी ताकि एक व्यक्ति बार-बार लाइन में ना लगे. बार-बार नोट बदलने वालों की वजह से कतारें लंबी हो रही हैं. बड़े शहरों के बैंक आज से ही नोट बदलने वालों की पहचान के लिए निशान लगाना शुरू कर दिया हैं.

शक्तिकांत दास ने यह अपील की कि जनधन वाले अपने खातों में दूसरों का पैसा जमा नहीं होने दें. उन्‍होंने कहा कि जनधन खाताधारक अपने अकाउंट में दूसरों के पैसे जमा न कराएं.

पुराने नोटों को एक जगह से दूसरे जगह ले जाने पर पूरी नजर रखी जा रही है. पुराने नोट को हटाने के लिए टास्‍क फोर्स बनाए गए हैं. निगरानी के लिए टास्‍क फोर्स भी बनाई गई है. बैंकों में कालाधन जमा न हो इस पर भी टास्‍क फोर्स नजर रखे हुए है. छोटे शहरों एवं गांवों में माइक्रो एटीएम लगाए जा रहे हैं. इस माइक्रो एटीएम से दबाव काफी कम हो जाएगा.

नए नोट के रंग उतरने के सवाल पर उन्होंने बताया कि नोट से रंग न उतरे तो वो नकली है. नोट से अगर थोड़ा रंग न उतरे तो समझिए कि वो नकली है. नोटबंदी के बाद नोट बदलने एवं कैश लेने को लेकर घबराने की जरूरत नहीं है.

0Shares
A valid URL was not provided.