बाढ़ पूर्व तैयारियों की डीएम ने की समीक्षा

बाढ़ पूर्व तैयारियों की डीएम ने की समीक्षा

छपरा: जिले में संभावित बाढ़ के पूर्व तैयारियों तथा बाढ़ सुरक्षा सप्ताह के अवसर पर विभिन्न आयोजनों से संबंधित विषय पर मंगलवार को जिलाधिकारी दीपक आनंद द्वारा समीक्षात्मक बैठक की गयी. बैठक में आपदा प्रबंधन से संबंधित यथा-बाढ़ नियंत्रण, स्वास्थ्य, पशुपालन, कृषि अंचल लोक स्वास्थ्य एवं अन्य विभागो एवं इन विभागो द्वारा विभाग से निर्गत आपदा मानक संचालन प्रक्रिया के अनुरूप की जा रही कार्रवाई की समीक्षा की गयी.

समीक्षा के क्रम में कार्यपालक अभियंता, सारण प्रमंडल द्वारा सारण जिलान्तर्गत सोनपुर से पानापुर तक 0-80 किलो मीटर तटबंधो को सुरक्षित बताया गया. उनके द्वारा बताया गया कि पानापुर के सरौंजा भगवानपुर एवं रिविलगंज के सिताबदियारा दो अति संवेदनशील स्थल है. जहां विशेष निगरानी रखी जाएगी तथा बाढ़ संघर्षात्मक सामग्रियों का भंडारण किया जा चुका है.

डीएम ने अंचल अधिकारियों को अंचल स्तर पर चिन्ह्ति शरणस्थलियों पर पेय जल, शौचालय, भवन आदि की व्यवस्था का सत्यापन करने तथा सरकारी एवं निजी नावो के सत्यापन के उपरांत आवश्यक मरम्मति/एकरारनामा एवं उनके रूट चार्ट तैयार कर लिये जाने आदि कार्रवाई अविलंब सम्पन्न कर लेने का निदेश दिया. साथ ही महाजाल/लाईफ जैकेट/ मोटर वोट की स्थिति का सत्यापन करने का भी निदेश डीएम ने दिया.

डीएम ने राहत वितरण हेतु पूर्व वर्षो के अनुभव के आधार पर संकटग्रस्त व्यक्ति समुहो की पहचान कर लिये जाने का निदेश दिया गया. मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी के प्रतिनिधि को सभी प्रखंडो से संबंद्ध चिकित्सको की प्रतिनियुक्ति तथा आवश्यक मानव दवाओं की उपलब्धता का सत्यापन कर प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का निदेश दिया गया. साथ ही पशुदवा/पशुचारा जिला पशुपालन पदाधिकारी, सारण को पशु दवाओं की उपलब्धता तथा पशुचारा की आवश्यकता का आकलन करने तथा पशुचारा हेतु निविदा की प्रक्रिया अपनाने का निदेश दिया गया.

डीएम ने शरणस्थलियों पर पेय जल की व्यवस्था हेतु अंचल अधिकारियों से समन्वय कर उपलब्ध चापाकलों का सत्यापन तथा खराब चापाकलो की मरम्मति का निदेश कार्यपालक अभियंता, लोक स्वास्थ्य प्रमंडल, छपरा को दिया गया.

स्चिव रेड क्रॉस सोसाईटी एवं सभी अंचल अधिकारियों को 1-7 जून तक मनाये जाने वाले बाढ़ सुरक्षा सप्ताह के अवसर पर जिला स्तर के निर्गत निदेशो के अलोको में गोष्ठी एवं साईकिल रेस आदि आयोजित कर व्यापक प्रचार-प्रसार करने तथा उपलब्ध कराये जा रहे बैनर पम्पलेट आदि को डिस्पले एवं वितरण कराने का निदेश दिया गया

डीएम ने बताया कि 2015-30 तक के लिए आपदा जोखिम न्यूनिकरण रोड मैप तैयार किया गया है तथा सभी स्तरो से किसी प्रकार की आपदा की स्थिति में त्वरित कार्रवाई अपेक्षित होगी. अतः सभी तैयारिया ससमय पूर्ण कर ली जाय तथा उपलब्ध कराये गये प्रपत्र में सभी वांछित प्रतिवेदन उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाय.

बैठक में उप विकास आयुक्त, सारण, अपर समाहर्त्ता, सारण, वरीय उप समाहर्त्ता, आपदा प्रबंधन शाखा, मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी, सारण, जिला पशुपालन, सारण कार्यपालक अभियंता, लोक स्वास्थ्य प्रमंडल, कार्यपालक अभियंता, बाढ़ नियंत्रण, प्रमंडल, छपरा, नहर प्रमंडल छपरा, सचिव, रेड क्रॉस सोसाईटी, छपरा, लघु सिचाई, प्रमंडल छपरा एवं सभी अंचल अधिकारी उपस्थित थे.

0Shares

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें