Oct 21, 2017 - Sat
Chhapra, India
30°C
Wind 3 m/s, SE
Humidity 65%
Pressure 758.93 mmHg

21 Oct 2017      

Home आपका शहर

Chhapra: नेहरू युवा केन्द्र छपरा के द्वारा आयोजित सिताबदियारा में कैमूर, बक्सर और भभुआ के स्वयंसेवक को ट्रेनिंग कार्यक्रम को संबोधित करते हुए 5 वे दिन मुख्य अतिथि शिक्षक नेता विश्वजीत सिंह चंदेल ने कहा कि हमारे देश भारत एक मजबूत केंद्रीय शासन के अंदर प्रशांत और प्रसन्न है. किंतु थोड़ा भी गौर करने पर ऐसी बात दिखाई नहीं पड़ती. सारा देश असंतोष-विशेषन: युवा असंतोष के ज्वालामुखी पर बैठा है। और इसके परिणाम के कारण दिन-रात आंदोलन के तप्त लावे उठ रहे हैं.

उन्होंने कहा कि यह एक युवा पीढ़ी आजादी के पश्चात एक नई पीढ़ी है. यह पीढ़ी विश्वविद्यालयों में हैं, कल-कारखानों में है, विभिन्न नौकरियों तथा व्यवसायों में है. यह पीढ़ी देश में बढ़ रही भ्रष्टाचार, बेरोजगारी, महंगाई, गरीबी, पक्षपात इत्यादि के बाद ही अपना शेष और व्यक्त करती है.

इस रोष के कारण ही विभिन्न कार्यालयों, कारखानों में हड़ताल की जा रही है. सिर्फ इस रोष के कारण बस जलाए जा रहें है, विश्वविद्यालय का बहिष्कार किया जा रहा है. युवा असंतोष का एक ही कारण नहीं है. इसका कारण यह भी है कि प्रतियोगिताओं में कुछ लोगों को पैरवी, पैसा, जाति और गुट के नाम पर भले ही नौकरी मिल जाए पर सारे युवाओं का भविष्य अंधकारात्मक होता जा रहा है. युवाओं का सरकार के प्रति जो विश्वास है वह छिन्न-भिन्न हो गया है. भ्रष्ट राजनीतिज्ञों ने नई प्रतिभाओं के लिए राजनीति का भी फाटक बंद सा कर दिया है.

युवा पीढ़ी के सामने देश की विकराल समस्या समाधान मांग रही है. बड़े-बड़े अधिकारी रिश्वत के बल पर मौज-मजे में अपनी जिंदगी बिता रहे हैं. इसलिए असंतोष के कारणों को समाप्त किए बिना देश में शांति स्थायी नहीं हो सकती. अत: शिक्षा की ऐस व्यवस्था करनी पड़ेगी जिससे कोई भी बेरोजगार न रहे. सरकार को युवा शक्ति का प्रयोग ध्वंसलीला के लिए नहीं, वरन निर्माण के लिए करना पड़ेगा. ये ट्रेनिंग में आये युवाओं को ये सीखना चाहिये कि इस समस्या का समाधान कैसे हो ।कार्यक्रम में प्रमुख रूप से शिक्षक जय प्रकाश राय, छात्र नेता नवलेश सिंह,रानिविर सिंह, अर्पित राज गोलू ने संबोधित किया.

कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला युवा समन्यवक कपिलदेव राम ने किया. मंच संचालन लेखापाल अशोक सिंह शेरपुरी ने किया. धन्यवाद ज्ञापन आकाश कुमार ने किया

(Visited 85 times, 1 visits today)

Comments are closed.

error: Content is protected !!