बीच सड़क पर लगती है सुअरों की महफ़िल, लोगों में समाया महामारी का डर, प्रशासन मौन

बीच सड़क पर लगती है सुअरों की महफ़िल, लोगों में समाया महामारी का डर, प्रशासन मौन

Chhapra: एक तरफ जहाँ जिला प्रशासन द्वारा डेंगू और चिकनगुनिया के प्रति प्रचार प्रसार कर लोगों को जागरूक किया जा रहा है वही दूसरी ओर प्रशासनिक लापरवाही के कारण इस बीमारी को खुला आमंत्रण दिया जा रहा है जिससे कि हजारों लोग ग्रसित हो सकते है.

शहर के बीचों बीच मौना सांढा रोड पर स्थित खनुआ नाला और उसके बगल में कचड़े का अंबार इस बीमारी को खुलेआम दावत दी रहा है. प्रशासनिक बदइंतजामी के प्रत्यक्ष उदाहरणों में से एक इस सड़क पर पूरे दिन सुअरों की महफ़िल जमी रहती है. जिससे यहाँ रहने वाले लोगो मे महामारी का डर समा गया है.

मौना चौक से सांढा ढाला जाने वाली इस सड़क के बीच मे यह मात्र एक जगह है जहां खनुआ नाला खुला है. साथ ही साथ इसके आगे भी जगह खाली है. खाली स्थान देखकर धीरे धीरे सामान ढोने वाले वाहनों ने यहाँ अपना अड्डा बना लिया और बाकी बची कसर नगर निगम के सफाई कर्मियों ने यहाँ कचड़ा इकट्ठा करने की जगह बनाकर पूरी कर दी. घनी आबादी में सुमार मौना मुहल्ला सहित कई अन्य मुहल्लों में जाने वाले इस रास्ते के मुड़ाने पर कचड़े और सुअर के कारण यह पूरी जगह लथपथ है. ऊपर से बारिश के कारण अब यह जगह पैदल चलने लायक भी नही बची है.

पूरे दिन सुअरों के जमावड़े से यहाँ रहने वाली हजारों की आबादी को अब संक्रमण का डर सताने लगा है. लगातार हो रही बारिश, सड़क पर फैले कचड़े और पूरे दिन उन कचरों पर बैठें सुअरों से डेंगू और चिकनगुनिया जैसे बीमारी पांव पसारने वाली है. अगर समय रहते इन पर ध्यान नही दिया गया तो यहाँ जल्द ही महामारी फैल सकती है.

[sharethis-inline-buttons]

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.