राष्ट्रपति कोविंद ने ढाका में पुनर्निमित रमना काली मंदिर का किया उद्घाटन

राष्ट्रपति कोविंद ने ढाका में पुनर्निमित रमना काली मंदिर का किया उद्घाटन

नई दिल्ली: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को ढाका में पुनर्निर्मित रमना काली मंदिर का उद्घाटन किया।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने बताया कि राष्ट्रपति कोविंद ने ढाका में पुनर्निर्मित रमना काली मंदिर का उद्घाटन किया। यह देवी काली को समर्पित सदियों पुराना मंदिर है।

इस मंदिर को 50 वर्ष पूर्व पाकिस्तानी सेना ने 1971 में ध्वस्त कर दिया था। मंदिर के उद्घाटन के बाद राष्ट्रपति कोविंद ने पत्नी सविता कोविंद के साथ मंदिर में पूजा-अर्चना की।

उद्घाटन के बाद एक कार्यक्रम में अपने संबोधन में राष्ट्रपति ने कहा कि ऐतिहासिक रमना काली मंदिर भारत और बांग्लादेश के लोगों के बीच आध्यात्मिक और सांस्कृतिक बंधन का प्रतीक है।

पाकिस्तान ने 1971 में विद्रोह को दबाने के लिए ऑपरेशन सर्चलाइट चलाया था। इस ऑपरेशन में इस मंदिर में आग लगा दी थी जिसमें कई लोग मारे गए थे। भारत ने इस मंदिर का दोबारा जीर्णोधार करने में मदद की है।

बांग्लादेश की करीब 10 प्रतिशत आबादी हिन्दू है। मंदिर निर्माण के बारे में विदेश सचिव ने कहा है कि यह दोनों देशों के लिए भावनात्मक क्षण है।

उल्लेखनीय है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बांग्लादेश के 50वें विजय दिवस समारोह में भाग लेने के लिए 15 से 17 दिसंबर तक बांग्लादेश की तीन दिवसीय राजकीय यात्रा पर हैं। गुरुवार को उन्होंने ढाका की संसद में आयोजित विजय दिवस समारोह में भाग लिया था।

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें