बाइडन ने दी चेतावनी- काबुल एयरपोर्ट के हमलावरों को खोजकर मारेंगे

बाइडन ने दी चेतावनी- काबुल एयरपोर्ट के हमलावरों को खोजकर मारेंगे

वाशिंगटन (Agency): अफगानिस्तान के काबुल एयरपोर्ट पर हुए सीरियल बम ब्लास्ट में 13 अमेरिकी सैनिकों समेत बड़ी संख्या में लोगों के मारे जाने के बाद राष्ट्रपति जो बाइडन ने फिर एक बार देश को संबोधित किया। उन्होंने खुली चेतावनी देते हुए कहा कि हम सभी गुनाहगारों को खोजकर मारेंगे, उनको किसी भी हाल में माफ नहीं करने वाले हैं।

संबोधन के दौरान बेहद भावुक दिखे राष्ट्रपति बाइडन ने कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका अफगानिस्तान के काबुल हवाई अड्डे पर दोहरे विस्फोटों के लिए जिम्मेदार लोगों की तलाश करेगा। इसके लिए पेंटागन को विस्फोट के जिम्मेदार लोगों को सजा देने का निर्देश दिया गया है। काबुल एयरपोर्ट में दोपहर बम विस्फोट के कुछ घंटे बाद में देश को संबोधित करते हुए बाइडन ने कहा कि पिछले एक दशक में अमेरिकी सेना के लिए यह सबसे बुरा दौर है जिसमें एक दिन में इतने सैनिक मारे गए।

हमले की जिम्मेदारी लेने वाले इस्लामिक स्टेट खुरासान (आईएसआईएस-के) के बारे में बाइडन ने कहा कि उनको इस अपराध की सजा भुगतनी पड़ेगी, हम उनको खोज कर सजा देंगे, किसी भी हाल में उनको माफी नहीं मिलने वाली है। इसके साथ ही राष्ट्रपति बाइडन ने अपना वादा दोहराया कि अफगानिस्तान से सैनिकों की वापसी जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि हम आतंकवादियों से नहीं डरेंगे, हम उन्हें अपने मिशन को रोकने नहीं देंगे। हम निकासी जारी रखेंगे।

शहीद सैनिक अमेरिकी हीरो

अपने संबोधन के दौरान भरे हुए स्वर व नम आंखों के साथ भावुक बाइडन ने काबुल में शहीद सैनिकों को अमेरिकी हीरो बताया। उन्होंने व्हाइट हाउस और देश भर के सार्वजनिक भवनों में झंडे को झुकाने का आदेश कर्मचारियों को दिया। उन्होंने कहा कि यह बेहद कठिन दिन है, इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर उन्हें अतिरिक्त बल की आवश्यकता होगी तो इसके लिए और सैन्य बल प्रदान करूंगा।

काबुल एयरपोर्ट पर हमले के बाद अमेरिका की उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने एशिया की यात्रा रद्द कर दी है और वे वाशिंगटन लौट रही हैं। इसके साथ ही 14 सितंबर को कैलिफोर्निया गर्वनर गेविन न्यूजरूप के लिए प्रचार के कार्यक्रम को भी स्थगित कर दिया है। व्हाइट हाउस की प्रवक्ता जेन पास्की ने संवाददाताओं से कहा कि बाइडन मंगलवार को अमेरिकी सेना को वापस बुलाने के अपने लक्ष्य पर कायम हैं और हमलों की चिंता के बीच सैन्य सलाहकारों की सलाह पर ऐसा कर रहे हैं।

पास्की ने कहा कि बाइडन हर अमेरिकी को बाहर निकालने के लिए काम कर रहे हैं जो अफगानिस्तान से बाहर निकलना चाहता है। हमारी उनके प्रति हमारी प्रतिबद्धता समाप्त नहीं होती है। उन्होंने बताया कि बाइडन ने अमेरिकी सैन्य कमांडरों को आईएसआईएस-के की संपत्ति, नेतृत्व और सभी सुविधाओं पर हमला करने के लिए रणनीति तैयार करने का आदेश दिया है। राष्ट्रपति ने कहा कि हम बड़े सैन्य अभियानों के बिना उन्हें अपने तरीके से खोजकर सजा देंगे।

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें