भारत को ओलंपिक में 3 स्वर्ण पदक दिलवाने वाले ‘हॉकी के जादूगर’ मेजर ध्यानचंद

भारत को ओलंपिक में 3 स्वर्ण पदक दिलवाने वाले ‘हॉकी के जादूगर’ मेजर ध्यानचंद

हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद की आज जयंती हैं. भारत को ओलंपिक में 3 स्वर्ण पदक दिलवाने वाले मेजर ध्यानचंद हॉकी के सबसे बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक थे.

मेजर ध्यानचंद का जन्म 29 अगस्त 1905 को इलाहाबाद में हुआ था. ध्यानचंद ने एम्सटर्डम में हुए ओलम्पिक खेलों में भारत की ओर से सबसे ज्यादा 14 गोल किए थे. उन्होंने भारत को 3 ओलम्पिक खेलों में गोल्ड दिलाया था.

ध्यानचंद को ‘हॉकी का जादूगर’ कहा जाता है. उन्होंने अपने इंटरनेशनल करियर में 400 से ज्यादा गोल किए थे.

भारत और जर्मनी के बीच मैच के दौरान बारिश हुई थी तो मैदान गीला था और बिना स्पाइक वाले रबड़ के जूते लगातार फिसल रहे थे, ऐसे में ध्यानचंद ने हाफ टाइम के बाद जूते उतार कर नंगे पांव खेलना शुरू किया. नंगे पांव खेलते हुए ध्यानचंद ने कई बेहतरीन गोल दागे. इस मैच में भारत ने 8-1 से जर्मनी को हराया था

मेजर ध्यानचंद को वर्ष 1956 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया. उनके जन्मदिन को राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनाया जाता है. ध्यानचंद के नाम पर ही ‘ध्यानचंद पुरस्कार’ दिया जाता है.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें