पचरुखी में सार्वजनिक शौचालय न होने के कारण महिलाओं को होती है परेशानी

पचरुखी में सार्वजनिक शौचालय न होने के कारण महिलाओं को होती है परेशानी

सीवान/पचरुखी: प्रखंड मुख्यालय पर सार्वजनिक शौचालय का न होना महिलाओं के लिए परेशानी का सबब बन गया है. आये दिन हजारों की संख्या में प्रखंड के ग्रामीण इलाक़ों से महिलाओं का आना जाना होता है. मगर शौचालय की आवश्यकता महसूस होने पर उन्हें काफी परेशानी का सामना पड़ता है. ऐसी स्थिति में बिना अपना काम निपटाये ही या तो उन्हें घर लौटना पड़ता है या बाजार से बाहर झाड़ियो का शहरा लेना पड़ता है.

प्रसंग वस बताते चलें कि पुरे प्रखंड मुख्यालय में एक भी सार्वजनिक शौचालय नहीं है. यहाँ तक की प्रखंड कार्यालय के कैंपस में भी महिलाओं के लिए शौचालय की कोई सुविधा नहीं है. यहाँ हर रोज सुदूर देहात से सैकड़ो महिलाओं आना होता है. फिर भी स्थानीय प्रशासन द्वारा उनकी उक्त समस्या के निराकरण के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया जाता है.

यही नहीं स्थानीय थाना जो मंदिर के कैंपस में चलता है वहां भी शौचालय की सुविधा नहीं है. नाम न छापने की शर्त पर एक पुलिस कर्मी ने बताया की शौचालय न रहने के कारण कैदियों को शौच के लिए रेलवे लाइन की तरफ ले जाना पड़ता है. ऐसे में हमेशा कैदियों के फरार होने की संभावना बानी रहती है. थाने में तैनात महिला चौकीदारों को भी समस्या होती है.

साभार: श्रीनारद मीडिया सर्विसेज, सीवान

0Shares
[sharethis-inline-buttons]

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें