विश्व विकलांगता दिवस पर भेदभाव मिटाने का दिया संदेश

विश्व विकलांगता दिवस पर भेदभाव मिटाने का दिया संदेश

नगरा: बी.बी.राम हाई स्कूल परिसर में एक विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन कर शनिवार को विश्व विकलांगता दिवस मनाया गया. इस अवसर पर स्कूल के छात्र एवं छात्रा ने विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन भी किया गया. प्रतियोगिता में छात्र एवं छात्राओं ने निबंध और पेंटिंग के माध्यम से संदेश दिया कि हमें समाज में विकलांगता के आधार पर किसी से भेदभाव नहीं करना चाहिए और न ही ऐसा व्यवहार करना चाहिए जिससे उनमें हीन भावना आए. विकलांग भी समाज का अभिन्न अंग हैं और उन्हें भी बराबरी का अवसर मिलना चाहिए.

इस अवसर बी.बी.राम हाई स्कूल के प्रधानाध्यापक मो शबिब अंसारी ने यह संदेश दिया कि विकलांग भी हमारे समाज का अभिन्न अंग है. विकलांगता से लड़ा जा सकता है. उदाहरण पोलियो है, जिसके निराकरण के लिए आज लोगों को अपने बच्चों को इसकी दवा समय से पिलानी चाहिये जिससे कि इस रोग से बचा जा सके. शबिब अंसारी ने विकलांगों के प्रति सकारात्मक सोच रख उन्हें शिक्षा से जोड़कर आत्मविश्वास बढ़ाने की बात कही. शबिब अंसारी ने अपील की कि सरकार और प्रशासन को सार्वजनिक स्थानों एवं अन्य जगहों पर विकलांग लोगों के लिए विशेष व्यवस्था करनी चाहिए ताकि उन्हें किसी प्रकार की परेशानी न हो और विकलांगता के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि विश्वभर में 3 दिसंबर को अंर्तराष्ट्रीय विकलांग दिवस मनाया जाता है. यह दिवस शारीरिक रूप से अक्षम लोगों को देश की मुख्य धारा में लाने के लिए मनाया जाता है. इसका मुख्य उदे्दश्य आधुनिक समाज में शारीरिक रूप से अक्षम लोगों के साथ हो रहे भेद-भाव को समाप्त किया जाना है. इस भेद-भाव में समाज और व्यक्ति दोनों की भूमिका रेखांकित होती रही है. सरकार द्वारा किये गए प्रयास में सरकारी सेवा में आरक्षण देना योजनाओं में विकलांगों की भागीदारी को प्रमुखता देना आदि को शामिल किया जाता रहा है.

इस मौके पर नसीम अख्तर अंसारी, मानवेन्द्र प्रसाद सुमन, प्रवीण कुमार, विष्णु कुमार, शालिनी, आशा चौहान, पूनम देवी, प्रशांत कुमार गोलू आदि शिक्षक उपस्थित थे.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.