उत्क्रमित मध्य विद्यालय के प्रधानाचार्य के खिलाफ ग्रामीणों ने किया जमकर हंगामा

उत्क्रमित मध्य विद्यालय के प्रधानाचार्य के खिलाफ ग्रामीणों ने किया जमकर हंगामा

Chhapra/Baniyapur:  उत्क्रमित मध्य विद्यालय बंगालीपट्टी के प्रधानाचार्य के खिलाफ शनिवार को ग्रामीणों और बच्चों ने मोर्चा खोल दिया. इस दौरान जमकर हंगामा भी किया.

ग्रामीणों का आरोप था कि विद्यालय में शैक्षणिक क्रिया कलाप में गड़बड़ी है. हंगामे में स्कूली बच्चे भी शामिल हो गये. उग्र ग्रामीण प्रधानाचार्य के विरुद्ध नारेबाजी करते हुए प्रधानाचार्य को दूसरे विद्यालय में स्थानांतरित करने की मांग कर रहे थे. सैकड़ो की संख्या में उग्र ग्रामीणो के पहुचने से विद्यालय परिसर में कुछ देर के लिये अफरा तफरी की स्थिति उत्पन्न हो गई. जिसे लेकर परीक्षा में शामिल होने आये छात्रों को परेशानी हुई.

अभिभावक गौतम रावत, विजय सिंह, कृष्णा राय, लालदेव रावत, विवेक सिंह, अजय कुमार ने बताया कि विद्यालय में पिछले तीन वर्षों से अंकड़ो का खेल चल रहा है. बच्चो की उपस्थिति के आंकड़े गलत देकर योजना की राशि का बंदरबांट प्रधानाचार्य द्वारा किया जाता है. विद्यालय में समय से मिड डे मील नहीं बनने, भोजन में गुणवत्ता की कमी, निर्धारित समय पर शिक्षकों के नहीं आने, छात्र भ्रमण योजना की राशि में घपला सहित कई आरोप ग्रामीणों द्वारा लगाया गया. तीन वर्षों से पोशाक तथा छात्रवृति की राशि नहीं मिलने को लेकर ग्रामीण अधिक उग्र थे. अभिभावकों ने सभी विन्दुओं पर विधिवत जांच की मांग की है.

ग्रामीणों की मांग को जायज ठहराते हुए विद्यालय शिक्षा समिति के सचिव सविता देवी ने बताया कि विद्यालय विकास तथा योजना संबंधी आय व्यय की जानकारी पिछले छह माह से मांगी जा रही है. लेकिन प्रधानाचार्य रीना देवी अब तक कोई जानकारी नहीं दे पाई है.

हालांकि प्रधानाचार्य रीना देवी ने बताया कि छात्रवृति और पोशाक राशि को खाते में भेजने के लिये राशि को बैंक में हस्तांतरित किया जा चुका है.

 

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.