शतचंडी महायज्ञ को लेकर निकाली गई भव्य कलश यात्रा, रथ पर निकली झांकीयाँ रही आकर्षण का केन्द्र

शतचंडी महायज्ञ को लेकर निकाली गई भव्य कलश यात्रा, रथ पर निकली झांकीयाँ रही आकर्षण का केन्द्र

रसूलपुर/एकमा: स्थानीय थाना क्षेत्र के जमनपुरा गांव स्थित माँ काली मंदिर के प्रांगण में आयोजित सात दिवसीय शतचंडी महायज्ञ को लेकर शनिवार को भव्य कलश यात्रा निकाली गई. जिसमें हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने भागीदारी निभायी. शोभा यात्रा बलिया कोठी के रास्ते बाबा महेंद्रनाथ धाम मेंहदार पहुँची. जहाँ श्रद्धालुओं ने कमलदाह सरोवर से जलभरी कर जय श्री राम व हर हर महादेव के नारे लगाते हुए पुुन: काली मंदिर जमनपुरा स्थित यज्ञस्थल पहुँचे.

शोभायात्रा में हाथी, घोड़ा, गाजा बाजा के अलावा रथ पर निकाली गई झांकीयााँ आकर्षण का केन्द्र रहीं. महायज्ञ की पूर्णाहूति 26 मार्च 2021 को होगा. महायज्ञ के दौरान प्रतिदिन यज्ञाचार्य पंडित अरविंद मिश्रा व उनके टीम द्वारा पूजा पाठ के बाद मध्यप्रदेश की सुप्रसिद्ध प्रवचनकर्ता सुश्री सपना नंदनी जी द्वारा भागवत कथा के माध्यम से शाम 6 बजे से रात 9 बजे तक अमृत वर्षा करेंगी तत्पश्चात बृन्दावन के कलाकारों द्वारा रामलीला का आयोजन रात्रि 9 बजे से किया जाएगा. महायज्ञ के अंतिम दिन दिनांक 27 मार्च 2021 को विशाल भंडारा का आयोजन किया गया है.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें