बाढ़ प्रभावितों के बीच युद्ध स्तर पर चल रहा है राहत कार्य: डीएम

बाढ़ प्रभावितों के बीच युद्ध स्तर पर चल रहा है राहत कार्य: डीएम

छपरा: गड़खा प्रखंड के कुल 25 पंचायतों में से 5 पंचायत के 14 गांवो के 8,000 परिवार बाढ़ प्रभावित है. गड़खा अंचल में युद्ध स्तर पर राहत कार्य चलाया जा रहा है.

जिलाधिकारी दीपक आनंद ने बताया कि गड़खा अंचल से प्राप्त सूचना के अनुसार 4 नाव परिचालित है. गड़खा प्रखंड के मौजमपुर पंचायत के अवतार नगर में राहत कैम्प चल रहा है. वही राहत कैम्प में 1,000 बाढ़ पीड़ितों को पका भोजन-भात, दाल, सब्जी दिया जा रहा है. मौजमपुर पंचायत में 28.05 क्विंटल चूड़ा, 6 क्विंटल गुड़ का वितरण किया गया है. पीड़ित परिवारों के बीच ढ़ाई किलो चूड़ा एवं आधा किलो गुड़ बांटा गया है.

उन्होंने बताया कि पट्टपटिया, निरपुर जुउरा एवं बैरग कुटिया में ट्रैक्टर के माध्यम से राहत सामग्री भेज कर वितरित करवाया जा रहा है. गड़खा अंचल में 500 पीड़ित परिवारो के बीच पाॅलीथीन का वितरण किया जा रहा है.

जिलाधिकारी ने कहा कि असैनिक शल्य चिकित्सक सह मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी के द्वारा गड़खा में मेडिकल कैम्प लगाया गया है, जहां मानव दवा के साथ एक चिकित्सक और एक ए0एन0एम0 की प्रतिनियुक्ति की गयी है. जिला पशुपालन पदाधिकारी द्वारा पशु कैम्प लगाया गया है, जहां पशु दवा उपलब्ध है. कैम्प में बड़े पशुओं के लिए 70 रू0 प्रति पशु, छोटे पशुओ के लिए 35 रू0 प्रति पशु चारा के लिए राहत राशि उपलब्ध कराया जा रहा है. कार्यपालक अभियंता स्वास्थ्य अभियंत्रण प्रमंडल को मौजमपुर पंचायत के अवतार नगर के राहत कैम्प में तीन चापाकल अस्थायी रूप से तत्क्षण लगाने का निर्देश दिया गया है, जिससे लोगो को स्वच्छ जल पीने के लिए उपलब्ध हो सके.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें