मढ़ौरा में निर्माण, यूपी के रोजा का नाम नहीं चलेगा: जितेन्द्र राय

मढ़ौरा में निर्माण, यूपी के रोजा का नाम नहीं चलेगा: जितेन्द्र राय

Chhapra/Madhaura: रेल डीजल इंजन कारखाना मढ़ौरा से बनकर निकलने वाले इंजन पर यूपी के रोजा का नाम लिखा होने के विरोध में रविवार को सैकड़ो की संख्या में किसान और भूमिदाता परिवार एकजुट हुए और बैठक की.

विरोध में एकजुट हुए ग्रामीण, 11 फरवरी को करेंगे धरना प्रदर्शन
बैठक में 11 फरवरी को धरना प्रदर्शन करने और कारखाना के निर्माण कार्य कों रोकने का निर्णय लिया गया. ग्रामीनों ने कहा कि शांतिपूर्ण ढंग से धरना प्रदर्शन और कार्य बाधित कर अपनी मांगों के आलोक में दबाव बनायेंगे.

इसे भी पढ़े: सारण की बेटी प्रियंका बनी SDM, BPSC परीक्षा में हासिल किया 178 वां रैंक

मढ़ौरा के स्वाभिमान के साथ खिलवाड़: विधायक  
बैठक में स्थानीय विधायक जितेन्द्र राय भी शामिल हुए. उन्होंने कहा कि यह मढ़ौरा के स्वाभिमान के साथ खिलवाड़ हुआ है. किसानों ने अपनी जमीन इसलिए दी थी कि क्षेत्र का विकास होगा और युवाओं को रोजगार मिल सकेगा पर ऐसा हुआ नहीं. और तो और मढ़ौरा इंजन कारखाना से बनकर निकले रेल इंजन पर यूपी के रोजा का नाम लिखा होना गलत है. निर्माण स्थल मढ़ौरा होगा और नाम दूसरे जगह का यह स्वीकार नही किया जायेगा.

इसे भी पढ़े: 4 फरवरी को जिले के सभी निजी स्कूल रहेंगे बन्द, बिहार बन्द को देखते हुए PSACWA का फैसला

वही पूर्व मुखिया परमात्मा राय ने कहा कि अस्मिता से खिलवाड़ स्वीकार नहीं किया जायेगा. रेल इंजन पर मढ़ौरा, सारण का नाम जबतक नहीं होता वे अपने आन्दोलन को थमने नहीं देंगे. मुखियां प्रतिनिधि हषवर्धन दीक्षित ने कहा कि डीजल इंजन फैक्ट्री से ही मढ़ौरा को अपनी औधोगिक पहचान की वापसी करनी है. जाप नेता मनोज गुप्ता ने कहा कि इंजन पर यूपी रोजा का नाम लिखा होने से स्थानीय लोग अपने को ठगा हुआ महसूस कर रहे है. 

बता दे कि मढ़ौरा रेल डीजल इंजन कारखाना से निकल रहे रेल इंजन पर निर्माण स्थल मढ़ौरा का नाम नहीं होकर यूपी रोजा का नाम लिखा होने को लेकर स्थानीय लोगों में भारी विरोध देखने को मिल रहा है.

इसे भी पढ़े: जिले मे 4 फरवरी को हाथ धुलाई कार्यक्रम का होगा आयोजन

स्थानीय ग्रामीणों ने कहा रेल फैक्ट्री की स्थानीय लोगों को रोजगार नहीं देकर उनकी उपेक्षा कर रही है. भूमिदाता परिवार ने खुशी खुशी अपनी जमीन दी थी कि उनके क्षेत्र का विकास होगा पर अब मढ़ौरा लोकोमोटिव कारखाना से निकले रेल डीजल इंजन पर मढ़ौरा के बदले रोजा का नाम होना यहां के लोगों के सम्मान को चोट पहुंचा रहा है.

बैठक की अध्यक्षता कामरेड रामबाबू सिंह ने की. बैठक में मुखिया वीरेन्द्र राय, मनोज गुप्ता, गणेश राय, हरेन्द्र राय सहित दर्जनों ग्रामीण उपस्थित थे.



[sharethis-inline-buttons]

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें