नयागांव के कालरात्रि मंदिर में आज होगी वार्षिक पूजा

नयागांव के कालरात्रि मंदिर में आज होगी वार्षिक पूजा

छपरा: पवित्र गंगा व मही नदी के तट पर प्राकृतिक सौन्दर्य के बीच मौजूद मां कालरात्रि का वार्षिक पूजनोत्सव सोमवार को धूमधाम से मनाया जाएगा.

पूजा समिति द्वारा पूजनोत्सव को लेकर सारी तैयारी पूरी कर ली गई है. मां कालरात्रि के मंदिर की सजावट व मंदिर प्रांगण मे पंडाल निर्माण सहित पूजा स्थल एवं इसके आसपास के इलाके में झिलमिल रौशनी के व्यापक प्रबंध के साथ ही चौक-चौराहे पर ध्वनि विस्तारक यंत्र लगाए जाने से पूरा नयागांव वातावरण भक्तिमय बना हुआ है.

कालरात्रि मंदिर कैसे पुहंचे

छपरा से हाजीपुर सडक मार्ग पर दिघवारा- सोनपुर के बीच नयागांव के समीप डुमरी बुजुर्ग गांव मे साढे पांच सौ वर्ष पुराना मां कालरात्रि का प्राचीनतम मंदिर है. ऐसी मान्यता है कि मुगल शासन में भक्तों के कष्टों को दूर करने को मां कालरात्रि यहां अवतरित हुई थी.

मां कालरात्रि काल को भी अपने वश मे रख दुष्टों का संहार कर भक्तों का कल्याण करती है. नवरात्र के दौरान यहां देवी भक्तों की बड़ी भीड़ जुटती है. मन्नत पुरी होने पर मां कालरात्रि की भीमकाय प्रतिमा पर 22 मीटर की चुनरी भक्त चढ़ाते है.

मां कालरात्रि की वार्षिक पूजा हर साल भादो आमावस्या की रात की जाती है. इस साल 21 अगस्त सोमवार को वार्षिक पूजा निर्धारित है.

वार्षिक पूजा पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया है जिसमे भजन सम्राट बिक्की छाबडा मां की शान में भजनो की प्रस्तुति देंगे.

मां के चरणों में प्रत्येक घर में बनी दलही पुड़ी व खीर अर्पित करने की परंपरा भी प्राचीन काल से चली आ रही है.

वार्षिकोत्सव पूजा को लेकर उमड़ने वाली भीड़ को देखते हुए विधि व्यवस्था संधारण को लेकर अनुमंडल प्रशासन द्वारा भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया जाता है.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.