नुक्कड़ नाटकों से दर्शकों ने देखा बढ़ते बिहार का स्वरूप

नुक्कड़ नाटकों से दर्शकों ने देखा बढ़ते बिहार का स्वरूप

Ekma: बढ़ते बिहार से युवाओं को रूबरु कराने के लिए जनता दल यूनाइटेड के वरिष्ठ नेता शैलेंद्र प्रताप सिंह द्वारा महराजगंज लोकसभा क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया गया. इस दौरान शुक्रवार  को एकमा प्रखंड में नारायणी गांव, छितवलिया बाजार, राजपुर एवं खानपुर में नाटक का आयोजन किया गया. इस दौरान आने वाले मकर संक्रांति त्योहार मनाने के लिए पतंग भी वितरित किए गए. इन नुक्कड़ नाटकों के आयोजन का मकसद बिहार की जनता को सशक्त बनते हमारे समाज का आइना दिखाना है.

इस संबंध में शैलेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि हमने लोगों को जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में नाटकों के माध्यम से बताया और नीतीश कुमार द्वारा बढ़ते बिहार की परिकल्पना को सजीव माध्यम से दिखाया है. उन्होंने कहा कि बिहार ने अगर शांति के साथ विकास की यात्रा का अनुभव पिछले 13 वर्षों में किया है तो यह सिर्फ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सुशासन का फल है.

बिहार में शिक्षा की व्यवस्था में सुधार, शैक्षणिक, आर्थिक व सामाजिक विकास की चर्चा की. नुक्कड़ के माध्यम से कलाकारों ने जनता के बीच बिहार के बढ़ते और बदलते स्वरूप को भी पेश किया. बिहार में हुआ विकास कुशल प्रशासन का एक बड़ा उदाहरण है कि कैसे किसी सीमित संसाधनों वाले राज्य में भी विकास हो सकता है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी कुशल प्रशासकीय क्षमता के साथ प्रगति पथ पर अग्रसर किया है.

शैलेंद्र प्रताप सिंह ने कहा बिहार में भर्तियों में महिलाओं को 35 फीसदी आरक्षण देने और अल्पसंख्यकों के रोजगार ऋण योजना, श्रमशक्ति योजना, पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप, प्री मैट्रिक स्कॉलरशिप, अल्पसंख्यक विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना, अल्पसंख्यक मुस्लिम तलाशुदा महिलाओं के लिए सहायता योजना जैसी दर्जनों योजनाओं से बिहार में सभी तबकों का विकास हुआ है.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.