सांसद रूडी की पहल, सोनहो में एनएच 722 और एसएच 73 के जंक्शन प्वाईंट पर बनेगा अंडरपास

सांसद रूडी की पहल, सोनहो में एनएच 722 और एसएच 73 के जंक्शन प्वाईंट पर बनेगा अंडरपास

Chhapra: देशभर में ब्लैक स्पॉट को चिन्हित किया जाना है. जिसके तहत देशभर में अत्यधिक दुर्घटना वाले स्पॉट की पहचान की जानी है. पर यह विदित है कि देश में सारण जिला ऐसा क्षेत्र है जहां  सांसद रूडी ने सबसे अधिक ब्लैक स्पॉट की पहचान करते केंद्रीय मंत्री गडकरी के संज्ञान में लाया और उसे संसद में भी उठाया.

परिवहन का विकास और सुगम यातायात के लिए स्थानीय सांसद राजीव प्रताप रुडी की दूरदर्शी सोच अब मूर्त्तरूप लेता दीख रहा है. उनके प्रयास से जिले में लाई गई परियोजनाएं अब धरातल पर तेजी से आकार ले रही हैं. इसी कड़ी में अब सोनहो में राजकीय उच्च पथ संख्या 73 और राष्ट्रीय उच्च पथ संख्या 722 के मिलान बिंदु पर वाहनों के सुगम आवागमन के लिए अंडरपास (VUP) के निर्माण की सैद्धांतिक स्वीकृति मिल गई है.

विदित हो कि इस सोनहों में पथों के इस जंक्शन प्वाइंट पर चारो ओर के वाहनों का जबरदस्त दबाव बना रहता है जिस कारण जाम की विकट समस्या बनी रहती है. आमजन को इस समस्या से मुक्ति दिलाने के लिए पथ निर्माण विशेषज्ञों के अलावा राष्ट्रीय उच्च पथ प्राधिकरण से सांसद ने निवारणार्थ वार्ता की. साथ ही विभागीय केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से भी की गई वार्ता का परिणाम यह निकला कि यहां एक अंडरपास निर्माण को मंजूरी दी गई.

इस संदर्भ में सांसद रुडी ने बताया कि सोनहो में एनएच 722 और एसएच 73 के मिलान बिंदु पर हमेशा वाहनों का दबाव बना रहता है। इस कारण यहां निरंतर जाम की समस्या बनी रहती है. कोई भी वाहन समय से अपनी मंजिल तक नहीं पहुंच पाता. स्थानीय दर्जनों गांवों के ग्रामीणों के अलावा पटना से सारण और मुजफ्फरपुर जाने वाले वाहन, राजधानी पटना से सारण, सिवान, गोपालगंज होते हुए उत्तर प्रदेश के देवरिया और गोरखपुर की तरफ जाने वाले वाहन, गोरखपुर की तरफ से मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी व पटना की तरफ जाने वाले वाहन के अलावा सारण से मुजफ्फरपुर जाने वाली सवारी गाड़ियों और व्यावसायिक वाहनों का यहां जबरदस्त दबाव बना रहता है. इस कारण सोनहो और परसा प्रखण्ड के दर्जनों गांवों के लोग को यहां लगने वाले जाम से तब सहुलियत मिलेगी जब अंडरपास का निर्माण हो जायेगा.

सांसद रुडी ने आगे बताया कि एनएच पर एसएच के कारण बीच शहर की तरह चौराहे का निर्माण हो गया है जो एनएच या एस एच के लिए वाजिब नहीं है. गंतव्य तक सही समय से पहुँचने के लिए यहां एक अंडरपास की आवश्यकता महसूस की गई जिस संदर्भ में मैने केंद्रीय मंत्री गडकरी जी को बताया और उन्होंने इसे गंभीरता से लेते हुए अधिकारियों को डीपीआर तैयार करने का आदेश जारी किया. सांसद ने कहा कि छपरा से मुजफ्फरपुर का मार्ग एनएच 722 देश में उच्च पथों के मामले में एक बेहतरीन सड़क है.

सारणवासियों के लिए यह एक ऐसा तोहफा है जो पथ निर्माण की अति उच्च तकनीक पर निर्मित है. इस तकनीक पर देश में बहुत कम ही सड़क का निर्माण हुआ है. ज्ञात हो कि पहले सारण से मुजफ्फरपुर या उत्तर बिहार जाने के लिए हाजीपुर होते हुए रास्ता तय करना पड़ता था. अब सांसद रुडी के प्रयास से निर्मित एनएच 722 से मुजफ्फरपुर जाने में केवल 50 मिनट का ही समय लगता है.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें