सारण में बाढ़ पीड़ितों का डाटा तैयार कर खाते में भेजी जा रही रकम: माधवी सिंह

सारण में बाढ़ पीड़ितों का डाटा तैयार कर खाते में भेजी जा रही रकम: माधवी सिंह

Chhapra: जदयू सारण की महिला जिलाध्यक्ष माधवी सिंह ने कहा कि सारण जिला बाढ़ और कोरोना वायरस की दो तरफा मार झेल रहा है. इन दोनों आपदाओं से लोगों को बचाने के लिए सरकार हरसंभव कार्य कर रही है.

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार की सरकार ने कोरोना वायरस महामारी व बाढ़ के दौरान बहुत ही सराहनीय काम किए हैं. माधवी सिंह ने कहा कि जिले में आई बाढ़ को लेकर 75000 परिवारों का डाटा तैयार कर लिया गया है. इन सभी के खाते में ₹6000 की रकम भेजने का कार्य शुरू कर दिया गया है.

जिलाध्यक्ष ने बताया कि कोविड-19 को लेकर सरकार हमेशा से तत्पर है, हम प्रतिदिन 1 लाख टेस्टिंग के करीब पहुंच रहे हैं. बिहार में टेस्टिंग की संख्या बढ़ाई गई. कोविड-19 से लोगों को बचाने के लिए सरकार ने हर संभव प्रयास किया है.

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार की सरकार ने जमीनी स्तर पर कार्य करके दिखाया है कि आपदा में कैसे हम लोगों की चिंता कर रहें हैं. नीतीश कुमार की सरकार ने इस आपदा में भी आयी चुनौतियों का डटकर सामना किया है और लोगों को जानें बचाई हैं. उन्होंने कहा कि बिहार में रिकवरी रेट बढ़ा है, जो कि एक अच्छा संकेत है.

उन्होंने बताया हर जिले में कंट्रोल रूम, आइसोलेशन बेड, मेडिकल स्टाफ, डॉक्टर आदि की संख्या बढ़ाई जा रही है. ताकि हम  कोरोना से बेहतर तरीके से निपट सकें. साथ ही उन्होंने कोविड वारियर्स का धन्यवाद दिया जो इस आपदा की घड़ी में लोगों की सेवा करने में लगे हैं. साथ ही पुलिस, डॉक्टर समेत तमाम प्रशासनिक पदाधिकारियों को सेवा देने के लिए आभार प्रकट किया.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें