एम्बुलेंस मामला: सांसद रूडी ने आरोपों पर दिया जवाब, कहा- मंदिर में बैठने से अपराधी संत नहीं हो जाता

एम्बुलेंस मामला: सांसद रूडी ने आरोपों पर दिया जवाब, कहा- मंदिर में बैठने से अपराधी संत नहीं हो जाता

Chhapra: एम्बुलेंस प्रकरण पर सारण के सांसद राजीव प्रताप रूडी ने वर्चुअल माध्यम से पूर्व सांसद पप्पू यादव के द्वारा उठाए गए सवालों का जबाब दिया. सांसद ने पप्पू यादव के संदर्भ में कहा कि मंदिर में बैठने से अपराधी संत नहीं हो जाता.

उन्होंने कहा कि राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव का राजनीति में पदार्पण अपराध जगत से हुआ जबकि मैं पंजाब विश्वविद्यालय में छात्र राजनीति के पश्चात देश सेवा के लिए राजनीति की मुख्य धारा में शामिल हुआ.

उन्होंने इंश्योरेंस समाप्त होने, चालक के बिमार होने या छोड़कर चले जाने के कारण सामुदायिक केंद्र पर खड़े एम्बुलेंसों का विवरण दिया और यह बताया कि यह किस कारण से खड़े थे. सांसद रुडी ने संचालित सभी एम्बुलेंसो की संचालन व्यवस्था का लाइव विडियो भी दिखाया.

सांसद कंट्रोल रूम से जीपीएस से ट्रैकिंग करते हुए सभी एम्बुलेंसों को दिखाया. साथ ही वर्ष 2019 में खरीदे गये सभी एम्बुलेंस आज तक कितने किलोमीटर चले है उसका डाटा भी दिखाया और कहा कि हमारे मित्र ने ये सवाल उठाया था कि इतने सारे एम्बुलेंस कैसे और क्यों चलाये जा रहे है, कहाँ रखे गये हैं.

सांसद रुडी ने पप्पू यादव द्वारा वर्ष 2014 में चुनाव आयोग को दिये गये शपथ पत्र को भी दिखाया जिसमें 32 आपराधिक मामलों का उल्लेख था. उन्होंने कहा कि कितने आपराधिक मामले दर्ज हैं और कितने आपराधिक मामले ट्रायल में है इसका उल्लेख पप्पू यादव ने स्वयं अपने शपथ पत्रों में किया है. यह मैं नहीं कह रहा, उन्होंने स्वयं इस बात को अपने शपथ पत्र में कबूल किया है. इसके साथ ही सांसद ने इसके अतिरिक्त भी कुल 17 अन्य आपराधिक मामलों की जानकारी दी. जिसे इन्होंने चुनाव आयोग को दिये अपने शपथ पत्र में छिपाया है.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें