लॉकडाउन अंतिम विकल्प हो, माइक्रो कन्टेनमेंट जोन पर जोर: प्रधानमंत्री मोदी

लॉकडाउन अंतिम विकल्प हो, माइक्रो कन्टेनमेंट जोन पर जोर: प्रधानमंत्री मोदी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा कि कल रामनवमी है और मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम का यही संदेश है कि हम मर्यादाओं का पालन करें। कोरोना के इस संकट काल में कोरोना से बचने के जो भी उपाय हैं, कृपया करके उनका पालन शत-प्रतिशत करिए।

उन्होंने कहा कि आज की स्थिति में हमें देश को लॉकडाउन से बचाना है। उन्होंने राज्यों से भी अनुरोध किया कि वे लॉकडाउन को अंतिम विकल्प के रूप में ही इस्तेमाल करें और लॉकडाउन से बचने की भरपूर कोशिश की जाये ।उन्होंने राज्यों को सलाह दी कि वे माइक्रो कन्टेनमेंट जोन पर ही ध्यान केंद्रित करें।

अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने विशेषकर बाल मित्रों का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि अपने बाल मित्रों से एक बात विशेष तौर पर कहना चाहता हूं। मेरे बाल मित्र, घर में ऐसा माहौल बनाएं कि बिना काम, बिना कारण घर के लोग, घर से बाहर न निकलें। आपकी जिद बहुत बड़ा परिणाम ला सकती है।

वहीं युवाओं से आग्रह करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि मेरा युवा साथियों से अनुरोध है की वे अपनी सोसायटी में, मोहल्ले में, अपार्टमेंट्स में छोटी-छोटी कमेटियां बनाकर कोविड अनुशासन का पालन करवाने में मदद करें। हम ऐसा करेंगे तो सरकारों को न कंटेनमेंट जोन बनाने की जरूरत पड़ेगी, न कर्फ्यू लगाने की, न लॉकडाउन लगाने की।

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें